Saturday, 28 March 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

आईआरएनएसएस-वनजी के लिए 51.30 घंटे की उल्टी गिनती शुरू

आईआरएनएसएस-वनजी के लिए 51.30 घंटे की उल्टी गिनती शुरू चेन्नई: देश के सातवें और आखिरी नेविगेशन उपग्रह आईआरएनएसएस-वनजी के प्रक्षेपण के लिए 51.30 घंटे की उल्टी गिनती मंगलवार को शुरू हो गयी। इसका प्रक्षेपण ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) सी33 के माध्यम से श्रीहरिकोटा से किया जायेगा।

इसरो ने कहा कि मिशन तैयारी समीक्षा समिति और प्रक्षेपण प्राधिकार बोर्ड ने सोमवार को उल्टी गिनती शुरू करने को मंजूरी दे दी, जिसकी शुरआत मंगलवार सुबह नौ बजकर 20 मिनट पर हो गयी। अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि बृहस्पतिवार को दोपहर 12 बजकर 50 मिनट पर श्रीहरिकोटा से उपग्रह का प्रक्षेपण किया जायेगा।

क्षेत्रीय नेविगेशन उपग्रह प्रणाली (आईआरएनएसएस) के अंतिम चरण में पीएसएलवी-सी33 के जरिये आईआरएनएसएस-वनजी को भेजा जायेगा। इससे भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी अमेरिका के ग्लोबल पोजिशिनिंग सिस्टम की बराबरी पर खड़ी हो जायेगी और देश खुद का स्वतंत्र स्थानीय नेविगेशन प्रणाली स्थापित करने में सक्षम हो जायेगा।

जहां चार उपग्रह आईआरएनएसएस प्रणाली को काम शुरू करने में सक्षम बनायेंगे, वहीं शेष तीन इसे ज्यादा ‘सटीक और कुशल’ बनायेंगे। इसरो ने इससे पहले छठे नेविगेशन उपग्रह आईआरएनएसएस-वनएफ का प्रक्षेपण 10 मार्च को किया था।

अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि आईआरएनएसएस-वनजी के प्रक्षेपण और काम शुरू करने से आईआरएनएसएस समूह पूरा हो जायेगा।
अन्य विज्ञान-तकनीक लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack