Sunday, 20 September 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

भारतीय चित्रकार अमृता शेरगिल की जयंती पर गूगल ने डूडल बनाकर किया सलाम

जनता जनार्दन संवाददाता , Jan 30, 2016, 13:13 pm IST
Keywords: Indian painter Amrita Sher-Gil   Amrita Shergill anniversary   Google   Doodles   भारतीय चित्रकार अमृता शेरगिल   अमृता शेरगिल जयंती   गूगल   डूडल  
फ़ॉन्ट साइज :
भारतीय चित्रकार अमृता शेरगिल की जयंती पर गूगल ने डूडल बनाकर किया सलाम नई दिल्ली: वैश्विक सर्च इंजन गूगल डूडल के जरिए भारतीय चित्रकार अमृता शेरगिल की 103वीं जयंती मना रहा है। गूगल ने अपने होम पेज पर तीन आम औरतों की तस्वीर को डूडल के रूप में पेश किया है।

अमृता शेरगिल एक सुप्रसिद्ध भारतीय महिला चित्रकार थीं जिन्हें 20वीं शताब्दी के भारत का एक महत्वपूर्ण महिला चित्रकार माना जाता है। उनकी कला के विरासत को 'बंगाल पुनर्जागरण' के दौरान हुई उपलब्धियों के समकक्ष रखा जाता है।

उन्हें भारत का सबसे महंगा महिला चित्रकार भी माना जाता है। 20वीं सदी की इस प्रतिभावान चित्रकार को भारतीय पुरातात्विक सर्वेक्षण ने सन् 1976 और 1979 में भारत के नौ सर्वश्रेष्ठ कलाकारों की सूचि में शामिल किया था।

हंगरी में जन्‍मी और वहीं बचपन गुजारने के बाद भी भारतीय ग्रामीण महिलाओं को चित्रित करने के साथ भारतीय नारी कि वास्तविक स्थिति को उकेरना उनकी चित्रकारी की एक मिसाल है।

अमृता बचपन से ही कैनवास पर छोटे छोटे चित्र उकेरनी लगी थी। इसके बाद वह अपने माता पिता के साथ 1921 में शिमला, फिर मां के साथ इटली गई और उसके बाद वह 1934 में भारत लौटीं। 1935 में शिमला फाइन आर्ट सोसायटी की तरफ से सम्मान मिला। 1940 में बॉम्बे आर्ट सोसायटी की तरफ से पारितोषिक पुरस्‍कार से नवाजी गईं।

चित्रकार अमृता सिर्फ 28 साल की उम्र में अचानक से बीमार होने के बाद इस दुनिया को अलविदा कहने गई थीं। 30 जनवरी 1913 को बुडापेस्ट (हंगरी) में जन्‍मीं अमृता के पिता उमराव सिंह शेरगिल सिख और मां मेरी एंटोनी गोट्समन हंगरी मूल की थी। इनके पिता संस्कृत-फारसी के विद्वान व मां नौकरशाह और एक मशहूर गायिका थीं।
अन्य चर्चित कलाकार लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack