Wednesday, 17 July 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

निगम शिक्षकों ने किया जोरदार प्रदर्शनः पूर्वी दिल्ली में उमड़ा आक्रोश

जनता जनार्दन संवाददाता , Jan 11, 2016, 18:13 pm IST
Keywords: Teachers Rally   NDMC   SDMC   NDMC School   Salary   Teachers Strike   दिल्ली नगर निगम   नगर निगम शिक्षक   शिक्षक रैली  
फ़ॉन्ट साइज :
निगम शिक्षकों ने किया जोरदार प्रदर्शनः पूर्वी दिल्ली में उमड़ा आक्रोश
नई दिल्लीः दिल्ली के तीनों नगर निगम के हजारों शिक्षकों ने चार महीने से बकाया वेतन की मांग के समर्थन में आज पूर्वी दिल्ली में जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का आयोजन आम शिक्षकों की ओर से हुआ था जिसमें भाग लेने के लिए दिल्ली के कोने - कोने से लोग पहुंचे। यह प्रदर्शन डीएसएसबी मुख्यालय से शुरु होकर लक्ष्मीनगर तक आयोजित किया गया।

डीएसएसबी मुख्यालय पर सुबह नौ बजे से ही शिक्षकों की भीड़ लगनी शुरु हो गई। बड़ी संख्या में महिला शिक्षकों ने भी इसमें शिरकत किया। निगम शिक्षकों की प्रतिनिधि संस्था एमसीटीए के अधिकारियों के अलावा इसमें सभी शिक्षक संगठनों के प्रतिनिधियों ने अपनी उपस्थिति जताई। 

नारे लगाते हुए शिक्षक शिक्षिकाओं ने कई स्थानों पर यातायात रोक दिया। जाम की स्थिति को संभालने के लिए प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

खास बात यह रही कि शिक्षकों ने इस आयोजन से राजनीतिक दलों के नेताओं को दूर रखा गया था। इससे पहले नगर निगम के शिक्षकों ने कल उत्तरी दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति के अध्यक्ष का घेराव किया था। 

गौरतलब है कि जबसे दिल्ली नगर निगम का तीन भागों में बंटवारा हुआ है तबसे दक्षिणी दिल्ली नगर निगम को छोड़कर अन्य निगमों के कर्मचारियों को समय पर वेतन नहीं मिल रहा है। पिछले चार महीनों से उत्तरी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली नगर निगम के  शिक्षकों को वेतन नहीं मिला है।

फरवरी मार्च के महीने में आमतौर पर सभी शिक्षकों का वेतन देर से आता है। ऐसे में शिक्षकों की खस्ता माली हालत का अंदाजा लगाया जा सकता है। खास तौर से ऐसे शिक्षक दम्पत्तियों को जो एक ही निगम में शिक्षक - शिक्षिका के रूप में कार्यरत हैं काफी मुश्किले हो रही हैं।

आज के प्रदर्शन में महिला शिक्षक बड़े पैमाने पर आयी थीं। रैली में भाग लेने वालों ने कहा कि अब से अपने अपने क्षेत्र के पार्षदों, विधायकों और सांसदों का घेराव किया जाएगा ताकि वे शिक्षकों की दुखदायक स्थिति से वे परिचित हो सकें।        
अन्य दिल्ली, मेरा दिल लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack