Wednesday, 01 April 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

दिल्ली में आज से विश्व पुस्तक मेला, 17 जनवरी तक चलेगा

दिल्ली में आज से विश्व पुस्तक मेला, 17 जनवरी तक चलेगा नई दिल्ली: दिल्ली में शनिवार से शुरू हो रहे विश्व पुस्तक मेले में देश और दुनिया के कई लेखकों की पुस्तकें उपलब्ध होंगी, लेकिन इस बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का उर्दू कविताओं का संग्रह ‘तमन्ना’ आकषर्ण के केंद्र में होगा।

पुस्तक मेले में पश्चिम बंगाल उर्दू अकादमी पहली बार अपना स्टॉल लगा रही है। उसके स्टॉल में ममता की उर्दू कविताओं के संग्रह के अलावा उर्दू भाषा की कई पुस्तकें, जर्नल और पत्रिकाएं उपलब्ध होंगी। पुस्तक मेले का आयोजन नौ जनवरी से 17 जनवरी तक हो रहा है।

तृणमूल कांग्रेस के सांसदों सुलतान अहमद और नदीमुल हक के नेतृत्व में अकादमी इस बार पुस्तक मेले में भाग ले रही है।

तृणमूल सांसद और पश्चिम बंगाल उर्दू अकादमी की संचालन समिति के सदस्य नदीमुल हक ने यहां बंग भवन में संवाददाताओं से कहा, ‘‘पश्चिम बंगाल उर्दू अकादमी पुस्तक मेले में पहली बार अपना स्टॉल लगा रही है। इसमें मुख्यमंत्री ममता की बनर्जी की कविताओं के संग्रह तथा कई दूसरी पुस्तकें उपलब्ध रहेंगी।

उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री का उर्दू भाषा के प्रति बहुत लगाव रहा है। उन्होंने बांग्ला लिपि में उर्दू कविताएं लिखीं हैं। उनकी कविताओं को संग्रह का रूप दिया गया है जिसका नाम ‘तमन्ना’ रखा गया है। उनकी कविताओं का संग्रह हमारे स्टॉल के आकषर्ण का केंद्र होगा।

हक ने कहा, पुस्तकों के अलावा उर्दू जुबान में कैसेट और सीडी भी उपलब्ध होंगी। हम अपने सभी प्रकाशनों पर 50 फीसदी की छूट देंगे। हमारी कोशिश है कि अधिक से अधिक लोग हमारी पुस्तकें खरीदें और ममता बनर्जी के नेतृत्व में सामने आई इन रचनाओं की सराहना करें।
अन्य साहित्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack