सरकार एनएसजी की हर अहम जरूरत को पूरा करेगी : किरण रिजिजू

सरकार एनएसजी की हर अहम जरूरत को पूरा करेगी : किरण रिजिजू नई दिल्लीः केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कल गुडगांव के मानेसर में राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के 31वें संस्थापना दिवस पर पैरेड की सलामी ली। एक विशाल जन समूह को संबोधित करते हुए उन्होंने एनएसजी के अधिकारियों एवं जवानों को उनके सिद्धान्त “सर्वत्र सर्वोत्तम सुरक्षा” पर खरे उतरने पर बधाई दी और जवानों को भरोसा दिलाया कि सरकार उनकी अहम जरूरतों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है।

इस अवसर पर रिजिजू ने सराहनीय सेवा, सर्वश्रेष्ठ कमांडो, निशानेबाज और प्रशिक्षक के पुरस्कार विजेताओं तथा एनएसजी शहीदों के परिवारों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल से सम्मानित किया। उन्होंने “द ब्लैक कैट जर्नल” के विशेष अंक- 2015 का भी अनावरण किया।

एनएसजी के महानिदेशक आर सी तयाल ने अपने संबोधन में नई चुनौतियों का सामना करने के लिए तकनीकों एवं कौशलों को उन्नत बनाने की सतत आवश्यकता पर बल दिया।

उन्होंने पिछले एक वर्ष के दौरान एनएसजी द्वारा शुरू की गई विभिन्न आधुनिकीकरण एवं उन्नयन पहलों को भी रेखांकित किया, जिनमें निगरानी क्षमताओं की बढोतरी, क्षेत्रीय केंद्रों (हब) की मजबूती, अन्य देशों के विशेष बलों के साथ एनएसजी के संयुक्त प्रशिक्षण का संचालन, अति महत्वपूर्ण व्यक्तियों (वीवीआईपी) की सुरक्षा के मुद्दों की समीक्षा और संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यासों के संचालन के द्वारा पहले उत्तरदाता के रूप में राज्य पुलिस का क्षमता निर्माण शामिल है।

महानिदेशक ने राष्ट्र को भरोसा दिलाया कि एनएसजी आतंकवाद के सभी रूपों से निपटने को तैयार है।

एनएसजी, जो “द ब्लैक कैट्स” के नाम से लोकप्रिय है, ने 1984 में अपनी शुरूआत के बाद से 53 वीरता पुरस्कार अर्जित किये हैं। इनमें देशभर के 114 ऑपरेशनों में अर्जित 3 अशोक चक्र, 3 शौर्य चक्र और 2 कीर्ति चक्र शामिल हैं।

एनएसजी के कमांडोज ने संस्थापना दिवस के अवसर पर वीवीआईपी सुरक्षा ड्रिल, के-9 डॉग शो, एयरक्राफ्ट इंटरवेंशन, पैरामोटर सेलिंग, फ्री फॉल और विभिन्न स्मॉल टीम इंसर्सन टेक्निक समेत जवानों की संचालनगत क्षमताओं का रोमांचक प्रदर्शन किया, जिसकी इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों ने भूरि-भूरि प्रशंसा की।

इस समारोह में बड़ी संख्या में वर्तमान में कार्यरत तथा सेवानिवृत्त अधिकारियों एवं अन्य व्यक्तियों ने भाग लिया तथा “द ब्लैक कैट कमांडोज” की संचालनगत क्षमताओं के रोमांचकारी प्रदर्शन का आनंद उठाया।

रिजिजू ने बाद में प्रेरणा फेसिलिटेशन सेंटर का दौरा किया जिसे एनएसजी वाइफ्स वेल्फेयर एसोसियेशन (एनड्ब्ल्यूवाईए) ने 16 अक्टूबर, 2014 को एनएसजी जवानों के विशेष बच्चों को पुनर्वास सुविधाएं मुहैया कराने के लिए शुरू किया था। प्रेरणा फेसिलिटेशन सेंटर आधुनिक उपकरणों तथा उच्च कौशल वाले चिकित्सकों एवं सलाहकारों से सुसज्जित है।

वर्तमान में पड़ोस के गांव के 10 बच्चों समेत 39 बच्चे सेंटर पर उपचार की सुविधा का लाभ उठा रहे हैं। श्री रिजिजू ने बच्चों, उनके माता-पिता और सेंटर के कर्मचारियों से भी बातचीत की। एनएसजी ने जिस तरीके से इस सेंटर की स्थापना की थी उससे वह काफी प्रभावित दिखे।

उन्होंने एक सार्थक कल्याण पहल शुरू करने के लिए एनड्ब्ल्यूवाईए द्वारा किये गए प्रयासों की भी सराहना की।
अन्य अर्द्धसैनिक बल लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack