मैगी के बाद पास्ता और मैक्रोनी की बारी

जनता जनार्दन डेस्क , Jun 07, 2015, 14:04 pm IST
Keywords: Maggie   Noodles   Maggi dispute   Pasta   Makroni   Brand   FSSAI   Investigation   मैगी   नूडल्स   मैगी विवाद   पास्ता   मैक्रोनी   ब्रांड   एफएसएसएआई   जांच  
फ़ॉन्ट साइज :
मैगी के बाद पास्ता और मैक्रोनी की बारी नई दिल्ली: मैगी पर पाबंदी के एक दिन बाद खाद्य सुरक्षा नियामक एफएसएसएआई ने कहा कि वह खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न ब्रांड के इंस्टेंट नूडल्स नमूनों की जांच होगी।

भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने कहा कि वह ब्रांडेड पास्ता और मैक्रोनी उत्पादों की भी जांच करेगा। एफएसएसएआई ने यह भी कहा कि वह फिलहाल ब्रांड एम्बेस्डर के खिलाफ कोई कार्रवाई करने पर विचार नहीं कर रहा है।

एफएसएसएआई के सीईओ युद्धवीर सिंह मलिक ने कहा, हम दूसरे इंस्टेंट नूडल्स ब्रांड की भी जांच करेंगे। हम दूसरे नूडल्स ब्रांड के नमूने ले रहे हैं। हालांकि, उन्होंने दूसरे ब्रांड का नाम नहीं बताया।

वैसे लोकप्रिय ब्रांडों में आईटीसी का सनफीस्ट येपी, एचयूएल का नोर, निसिन फूड्स का टॉप रामेन और नेपाल के चौधरी समूह का वाई-वाई शामिल हैं।

मलिक ने कहा, सोमवार को हम इंस्टेंट नूडल्स, मैक्रोनी तथा पास्ता के सभी ब्रांडों को प्रकाशित करेंगे जिन्होंने अपने उत्पादों की बिक्री के लिए एफएसएसएआई से मंजूरी ली है। परीक्षण के लिए इन ब्रांडों के नमूनों को लिया जाएगा।

चौधरी ने कहा, जिन ब्रांडों या उत्पादों ने मंजूरी नहीं ली है, वे अवैध हैं और उनके खिलाफ कार्रवाई पर विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा, कई ऐसे ब्रांड हैं जिन्होंने एफएसएसएआई से मंजूरी नहीं ली है।

एफएसएसएआई ने शुक्रवार को नेस्ले इंडिया के मैगी की सभी किस्मों को असुरक्षित और खतरनाक बताते हुए उन्हें प्रतिबंधित कर दिया था।
अन्य चर्चा में लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack