Tuesday, 21 January 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

किसानों का कल्याण सरकार की प्राथमिकता, हितों से समझौता नहीं: मोदी

किसानों का कल्याण सरकार की प्राथमिकता, हितों से समझौता नहीं: मोदी नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि 'अन्नदाता' का कल्याण सरकार के लिये प्राथमिकता है और उनके हितों के साथ कोई समझौता नहीं किया जा सकता। बजट के बाद छोटे उद्यमियों, युवाओं तथा वरिष्ठ नागरिकों को संबोधित पांच पत्रों में प्रधानमंत्री ने किसानों को अन्नदाता बताया है। वित्त मंत्रालय ने आज वेबसाइट पर इन पत्रों को पोस्ट किया।

उन्होंने कहा, 'आपका (किसानों) कल्याण मेरी सरकार की प्राथमिकता है और आपके हितों के साथ कोई समझौता नहीं किया जा सकता।' कुछ राज्यों में बेमौसम बारिश से फसलों को हुए नुकसान का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि सरकार जरूरत के समय आपके पीछे खड़ी है, हम आपको समर्थन देने के लिये राज्य सरकारों के संपर्क में हैं।

31 मार्च 2015 को लिखे गये पत्र में मोदी ने कहा है कि सरकार ने जिंसों के दाम में तीव्र गिरावट की स्थिति में मदद पहुंचाने के लिये कीमत स्थिरीकरण कोष स्थापित की है।

उन्होंने लिखा है, ‘हम राष्ट्रीय कृषि बाजार तैयार करने, सभी बिचौलियों को हटाने के लिये सक्रियता से राज्यों के साथ काम कर रहे हैं।’ छोटे उद्यमियों को लिखे पत्र में प्रधानमंत्री ने कहा कि मुद्रा (माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी) बैंक कम कागजी काम के साथ सस्ती दर पर कर्ज की सुविधा सुनिश्चित करेगा।
अन्य देश लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack