स्मार्टफोन माइक्रोमैक्स ने सैमसंग को पीछे छोड़ा

स्मार्टफोन माइक्रोमैक्स ने सैमसंग को पीछे छोड़ा

नई दिल्ली: वैश्विक स्तर पर अपनी बादशाहत बचाने की चुनौती से जूझ रही कोरियाई इलेक्ट्रानिक कंपनी सैमसंग को साल 2014 की चौथी तिमाही में भारतीय स्मार्टफोन बाजार में घरेलू कंपनी माइक्रोमैक्स पीछे छोड़ते हुए बाजार हिस्सेदारी में टॉप पर पहुंच गई। शोध सलाह देने वाली अंतरराष्ट्रीय कंपनी कैनालिस की रिपोर्ट में कहा गया है कि मोबाइल प्रौद्योगिकी के मामले में विविधता नहीं लाने की वजह से इस दौरान दुनिया के तीसरे सबसे बड़े स्मार्टफोन बाजार में घरेलू कंपनी माइक्रोमैक्स ने सैसमंग को पछाड़ते हुए 22 प्रतिशत हिस्सेदारी पर कब्जा कर बाजार हिस्सेदारी में टॉप पर पहुंच गई। इस दौरान सैमसंग 20 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ दूसरे पायदान पर लुढ़क गई।

रिपोर्ट के मुताबिक माइक्रोमैक्स के नौ हजार रुपए से लेकर 12 हजार रुपए मूल्य के बीच किफायती स्मार्टफोन को उन्नत प्रौद्योगिकी और बेहतर फीचर के साथ पेश करने से देश में खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में उसकी मांग में जबरदस्त तेजी दर्ज की गई है। साथ ही अन्य मॉडल कैनवास नाइट्रो और कैनवास ह्यू का प्रदर्शन भी काफी बेहतर रहा है जिससे माइक्रोमैक्स को बढ़त बनाने में मदद मिली है।

अन्य व्यापार लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack