अज्ञात स्थान पर तालिबान समिति और पाक सरकार की बीच हुई वार्ता

अज्ञात स्थान पर तालिबान समिति और पाक सरकार की बीच हुई वार्ता इस्लामाबाद: शुरुआती दौरे के अवरोधों के बाद पाकिस्तान सरकार और तालिबान के प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को एक अज्ञात स्थान पर बातचीत की। इस बैठक का लक्ष्य देश में आतंकवाद की समाप्ति और शांति के लिए रूपरेखा तैयार करना है।

सरकार की चार सदस्यीय समिति के समन्वयक वरिष्ठ पत्रकार इरफान सिद्दीकी ने कहा कि पैनल खुले विचार के साथ प्रतिबंधित संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के साथ वार्ता करेगा।

सरकारी वार्ताकार बातचीत शुरू करने के तरीके और उसे आगे ले जाने के संबंध में विचार करने के लिए इस्लामाबाद में मिले थे। तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) की समिति और सरकारी वार्ताकारों के बीच बातचीत चार फरवरी को ही शुरू होनी थी लेकिन सरकारी समिति की ओर से कुछ आपत्ति जताए जाने के कारण उसे रद्द करना पड़ा।

तालिबान की वार्ताकार समिति में ‘तालिबान के पिता’ के नाम से जाने जाने वाले कट्टरपंथी धर्मगुरू समिउल हक, जमात-ए-इस्लामी नेता इब्राहीम खान और कट्टरपंथी लाल मस्जिद के धर्मगुरू अब्दुल अजीज शामिल हैं।
अन्य पास-पड़ोस लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack