Monday, 09 December 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

नहीं दूंगा इस्तीफा: श्रीनिवासन

नहीं दूंगा इस्तीफा: श्रीनिवासन मुंबई: इस्तीफे की बढ़ती मांग से बेअसर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीसाई) के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने बुधवार को फिर रक्षात्मक रवैया अपनाते हुए अपने पद से हटने से साफ इंकार कर दिया।

आईपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने आज श्रीनिवासन को आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में अपने दामाद और चेन्नई सुपर किंग्स टीम के सदस्य के खिलाफ जांच से खुद को दूर रहने की मांग की, इसके कुछ ही देर बाद बीसीसीआई प्रमुख ने पत्रकारों से कहा कि शुक्ला ने कुछ भी नया नहीं कहा है और वह सिर्फ वही दोहरा रहे हैं जो रविवार को उन्होंने (श्रीनिवासन ने) कहा था।

श्रीनिवासन ने कहा कि मैंने शुक्ला का इंटरव्यू देखा। उन्होंने कहा है कि आयोग नियुक्त कर दिया है और मुझे खुद को इस प्रक्रिया से दूर रखना चाहिए जैसा कि मैंने कोलकाता में प्रेस कांफ्रेंस में कहा था। उन्होंने कहा कि मैंने कोलकाता में कहा था कि मेरा आयोग से कुछ लेना-देना नहीं है, जिसमें नियुक्तियां, इसके संदर्भ में शर्तें और इसका फैसला शामिल है। शुक्ला ने सिर्फ इसी का दोहराव किया है। इसलिये इसमें कुछ भी नया नहीं है।

उन्होंने कहा कि मुझे आयोग से कुछ लेना-देना नहीं है। यह स्वतंत्र है। परिचालन अधिकार के अंतर्गत, उनके पास प्रतिबंध और सजा देने का अधिकार हैं। इसलिये हमें सिर्फ नतीजे का इंतजार करना होगा। यह पूछने पर कि बीसीसीआई अधिकारी जैसे ज्योतिरादित्य सिंधिया और हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष जी विनोद ने उनके इस्तीफे की मांग की है तो श्रीनिवासन ने कहा कि मैं व्यक्तिगत प्रतिक्रियाओं का जवाब नहीं दूंगा।

जब से यह प्रकरण शुरू हुआ है, श्रीनिवासन पर इस्तीफा देने का जबरदस्त दबाव बन रहा है, लेकिन वह अपने फैसले पर अडिग बने हुए हैं। तीन सदस्यीय बीसीसीआई जांच समिति गुरुनाथ मयप्पन और राजस्थान के तीन खिलाड़ियों तथा इसकी फ्रेंचाइजी और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ स्पॉट फिक्सिंग आरोपों की जांच कर रही है।

कर्नाटक और मद्रास हाईकोर्ट के पूर्व न्यायधीश न्यायमूर्ति टी जयराम चाउता, मद्रास हाईकोर्ट के पूर्व न्यायधीश न्यायमूर्ति आर बालासुब्रहमण्यम और बीसीसीआई सचिव संजय जगदाले आयोग के सदस्य होंगे।
अन्य क्रिकेट लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख
 
stack