Sunday, 20 September 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

शेयर बाजारों में गिरावट, सेंसेक्स 292 अंक नीचे

जनता जनार्दन डेस्क , Apr 04, 2013, 17:34 pm IST
Keywords: Sensex   Indian Stock Market   Nifty   Stocks Price   सेंसेक्स   निफ्टी   भारतीय शेयर बाजार   स्टॉक मूल्य     
फ़ॉन्ट साइज :
शेयर बाजारों में गिरावट, सेंसेक्स 292 अंक नीचे मुम्बई: देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को भारी गिरावट का रुख रहा। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 291.94 अंकों की गिरावट के साथ 18,509.70 पर और निफ्टी 98.15 अंकों की गिरावट के साथ 5,574.75 पर बंद हुआ।

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 70.26 अंकों की गिरावट के साथ 18,731.38 पर खुला और 291.94 अंकों यानी 1.55 फीसदी की गिरावट के साथ 18,509.70 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 18,733.62 के ऊपरी और 18,473.85 के निचले स्तर को छुआ।

सेंसेक्स के 30 में से 6 शेयरों में तेजी दर्ज की गई। डॉ. रेड्डीज लैब (3.03 फीसदी), कोल इंडिया (2.56 फीसदी), हिंदुस्तान यूनिलीवर (1.68 फीसदी), मारुति सुजुकी (1.06 फीसदी) और महिंद्रा एंड महिंद्रा (0.26 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी दर्ज की गई।

गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे जिंदल स्टील (4.32 फीसदी), टाटा स्टील (3.97 फीसदी), स्टरलाइट इंडस्ट्रीज (3.09 फीसदी), इंफोसिस (2.74 फीसदी) और हीरो मोटोकॉर्प (2.67 फीसदी)।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 32.25 अंकों की गिरावट के साथ 5,640.65 पर खुला और 98.15 अंकों यानी 1.73 फीसदी की गिरावट के साथ 5,574.75 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार में निफ्टी ने 5,644.45 के ऊपरी और 5,565.65 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट दर्ज की गई। मिडकैप सूचकांक 115.29 अंकों की गिरावट के साथ 6,143.27 पर और स्मॉलकैप 125.68 अंकों की गिरावट के साथ 5,923.07 पर बंद हुआ।

बीएसई के सभी 13 सेक्टरों में गिरावट दर्ज की गई। रियल्टी (3.39 फीसदी), सूचना प्रौद्योगिकी (2.45 फीसदी), प्रौद्योगिकी (2.44 फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु (2.05 फीसदी) और बैंकिंग (1.89 फीसदी) में सर्वाधिक गिरावट रही।

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 907 शेयरों में तेजी और 1850 में गिरावट दर्ज की गई, जबकि 111 शेयरों के भाव में कोई परिवर्तन नहीं हुआ।
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack