Saturday, 28 November 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

कानपुर की केमिकल फैक्टरी में आग से लाखों स्वाहा

जनता जनार्दन संवाददाता , Mar 21, 2011, 17:15 pm IST
Keywords: कानपुर   केमिकल फैक्टरी   आग   Fire   Chemical factory   
फ़ॉन्ट साइज :
कानपुर की केमिकल फैक्टरी में आग से लाखों स्वाहा कानपुर: घनी आबादी वाले उत्तर प्रदेश के औद्योगिक शहर कानपुर स्थित एक फैक्टरी में सोमवार तड़के भीषण आग लग गई। आग की वजह से कई विस्फोट हुए और इलाके में अफरातफरी मच गई। वैसे घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। पांकी औद्योगिक इलाके में तिरुपति इंक फैक्टरी में आग लग गई। आग पर काबू पाने के लिए तुरंत वहां दमकल की 15 गाडि़यां भेजी गईं।

एसपी सिटी कुशहर सौरभ ने बताया कि दादानगर औद्योगिक इलाके के पनकी साइट नंबर 1 में स्थित तिरूपति इंक और कलर फैक्ट्री में रखे केमिकल के ड्रमों में सोमवार सुबह करीब चार बजे अचानक आग लग गयी। आग ने देखते ही देखते भीषण रूप ले लिया और केमिकल से भरे ड्रम आग की चपेट में आकर तेज आवाज के साथ फटने लगे।

आग और केमिकल भरे ड्रम फटने से इलाके में अफरातफरी मच गई। उन्होंने बताया कि दमकल विभाग की 16 गाड़ियों ने सात घंटे से ज्यादा समय में आग पर काबू पाया। उन्होंने बताया कि इस हादसे में किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं है, लेकिन आग से लाखों रुपए का इंक और रंग बनाने का सामान नष्ट हो गया। आग से हुए सही-सही नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

उन्होंने आग बुझाने के दौरान किसी दमकलकर्मी के घायल होने की बात से इंकार किया। चीफ फायर आफिसर के.पी. सिंह ने बताया कि फैक्ट्री में रखे रसायन के ड्रम आग के संपर्क में आने पर फटने लगे, जिसकी वजह से आग बुझाने के काम में बाधा आई।

उन्होंने बताया कि आग पर काबू पाने में दमकल की 16 गाड़ियों को सात घंटे का समय लगा और इस दौरान कोई हताहत नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

आग लगने से इलाके में हड़कंप मच गया। हालात पर काबू रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया तथा वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मामले की जांच कर रहे है।

मुख्य अग्निशमन अधिकारी कुंवर पाल सिंह ने कानपुर में संवाददाताओं को बताया कि आग भीषण थी। आग लगने के बाद कई विस्फोट भी हुए। दरअसल फैक्टरी के अंदर रखे ड्रमों में ज्वलनशील घोल रखा हुआ था, इसलिए आग के संपर्क में आकर ये ड्रम एक-एक कर फटने लगे। उन्होंने बताया कि अब स्थिति नियंत्रण में है।

अधिकारियों ने बताया कि तड़के करीब चार बजे के आसपास यह आग लगी थी। सिंह ने बताया कि जब दमकलकर्मी घटनास्थल पहुंचे तो फैक्टरी में कुछ लोग मौजूद थे लेकिन पुलिस की मदद से उन्हे सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया ।
अन्य शहर लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack