Wednesday, 03 June 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
चर्चित लेखक
मीना कांथ, गूगल डूडल ने महिला अधिकारों से जुड़ी लेखिका को किया सलाम जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 19, 2017
मीना कांथ का आज जन्मदिन है. गूगल डूडल आज फिनिश राइटर, जर्नलिस्ट और सोशल एक्टिविस्ट मीना कांथ का 173वां जन्मदिवस मना रहा है. उलरिका विल्हेल्मिना कांथ का जन्म 19 मार्च 1844 को फिनलैंड के टाम्परे में हुआ था. कांथ का जन्मदिन फिनलैंड में 'सामाजिक समानता दिवस' के रूप में मनाया जाता है. ....  समाचार पढ़ें
वेदप्रकाश शर्मा के अंतिम संस्कार में पहुंचे साहित्य के दिग्गज जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 19, 2017
शहर की शान वेदप्रकाश शर्मा का शुक्रवार की रात निधन हो गया। उनके निधन की खबर मिलते ही साहित्य जगत में शौक की लहर दौड़ गई। वेद प्रकाश शर्मा एक साल से कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे। शनिवार को उनके शव का अंतिम संस्कार सूरजकुंड में किया गया। जिसमें नेता और पटकथा लेखन से लेकर उपन्यासकार पहुंचे। उनके शव को मुखाग्नि बेटे ने दी। ....  समाचार पढ़ें
बॉब डिलेन के नोबेल पुरस्कार जीतने पर भारतीय संगीत जगत बेहद खुश जनता जनार्दन संवाददाता ,  Oct 14, 2016
सरोद वादक अमजद अली खान और संगीत निर्देशक ए आर रहमान सहित भारतीय संगीत जगत ने महान अमेरिकी गीतकार एवं गायक बॉब डिलन को साहित्य का नोबेल पुरस्कार दिए जाने की आज सराहना करते हुए इसे संगीत से जुड़े सभी लोगों के लिए 'गौरव का क्षण' बताया. ....  समाचार पढ़ें
कवि और गायक बॉब डिलेन को मिला साहित्‍य का नोबेल पुरस्‍कार 2016 जनता जनार्दन डेस्क ,  Oct 14, 2016
अमेरिकी गीतकार बॉब डिलेन को इस साल का नोबेल साहित्य पुरस्कार दिया जाएगा. वह प्रतिष्ठित सम्मान हासिल करने वाले पहले गीतकार हैं और इस घोषणा ने पुरस्कार पर नजर जमाए हुए लोगों को हैरान कर दिया है. ....  समाचार पढ़ें
मुंशी प्रेमचंद की 136वीं जयंती: गूगल ने गोदान से प्रेरित डूडल बनाकर दी श्रद्धांजलि जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 31, 2016
साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद की आज 136वीं जयंती हैं. उनकी जयंती पर गूगल ने अपने होमपेज पर खूबसूरत डूडल बनाया है. ये डूडल बनाकर गूगल ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है. यह भारत के लिए बहुत ही गौरव की बात है. ....  समाचार पढ़ें
नहीं रहीं 'हजार चौरासी की मां' महाश्वेता देवी, कोलकाता में निधन जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 28, 2016
हिंदी और बांग्ला की मशहूर लेखिका और सोशल एक्टिविस्ट महाश्वेता देवी का 90 वर्ष की उम्र में कोलकाता के बेलव्यू अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है. ....  समाचार पढ़ें
नहीं रहे मशहूर शायर निदा फाजली जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 08, 2016
उर्दू के मशहूर शायर और फिल्म गीतकार निदा फाजली का 8 फरवरी सोमवार को मुंबई में निधन हो गया है। 12 अक्टूबर 1938 को दिल्ली में जन्मे निदा फाजली को शायरी विरासत में मिली थी। उनके घर में उर्दू और फारसी के दीवान, संग्रह भरे पड़े थे। उनके पिता भी शेरो-शायरी में दिलचस्पी लिया करते थे और उनका अपना काव्य संग्रह भी था, जिसे निदा फाजली अक्सर पढ़ा करते थे। ....  समाचार पढ़ें
नहीं रहे जाने माने कवि व पत्रकार पंकज सिंह जनता जनार्दन डेस्क ,  Dec 27, 2015
समकालीन हिंदी कविता के सातवें दशक के महत्वपूर्ण कवि पंकज सिंह का हृदय गति रुकने से शनिवार को निधन हो गया. मुजफ्फरपुर के पंकज सिंह लंबे समय से दिल्ली में ही रह रहे थे. वे 67 वर्ष के थे. उन्होंने शनिवार की दोपहर पत्नी सविता सिंह से सिर दर्द की शिकायत की थी.इसके बाद उन्हें नोएडा के एक अस्पताल में भरती कराया गया, जहां उनका निधन हो गया. रामबाग के रहनेवाले पंकज की प्रारंभिक पढ़ाई मुजफ्फरपुर में हुई. यहां ये लंबे समय तक नवगीत के रचनाकार कवि राजेंद्र प्रसाद सिंह के साथ साहित्य सर्जना करते रहे. ....  समाचार पढ़ें
भारत में हिंदू-मुस्लिम नहीं बल्कि विचारों का बदलाव: तस्लीमा जनता जनार्दन डेस्क ,  Dec 07, 2015
बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने कहा है कि भारत में टकराव हिंदुत्व और इस्लाम के बीच नहीं बल्कि धर्मनिरपेक्षता और कट्टरवाद के विचारों के बीच है। तस्लीमा ने एक वीडियो संदेश में कहा कि भारत में टकराव है, यह टकराव धर्मनिरपेक्षता और कट्टरवाद के दो विभिन्न विचारों के बीच है। मैं उनसे सहमत नहीं हूं जो सोचते हैं कि टकराव हिंदुत्व और इस्लाम के बीच है। ....  समाचार पढ़ें
चिदंबरम की टिप्पणी पर रश्दी ने पूछा,गलती सुधारने में कितने साल लगेंगे? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Nov 29, 2015
पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम द्वारा सलमान रश्दी के उपन्यास 'सेटेनिक वर्सेस' पर तत्कालीन राजीव गांधी सरकार की ओर से लगाई गयी रोक को गलत बताये जाने के कुछ ही घंटे बाद रश्दी ने कहा कि इस गलती को सुधारने में कितने और साल लगेंगे।चिदंबरम ने टाइम्स लिटफेस्ट में कहा था कि उन्हें यह कहते हुए कोई संकोच नहीं कि सलमान रश्दी की किताब पर पाबंदी गलत थी। रश्दी ने ट्विटर पर प्रतिक्रिया दी, 'इस कबूलनामे में महज 27 साल लगे। ....  समाचार पढ़ें
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल