Saturday, 23 October 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
किताबें
आंचलिक पत्रकार पत्रिका की छांव में.. गौरव अवस्थी ,  Sep 21, 2021
आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी के समकालीन पंडित माधव राव सप्रे की स्मृति में देश के प्रखर पत्रकार और मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में लंबे समय तक पत्रकारिता करने वाले पद्मश्री विजय दत्त श्रीधर जी ने 40 वर्ष पहले भोपाल में सप्रे संग्रहालय की स्थापना के साथ पत्रकारिता और पत्रकारों की दशा-दिशा सुधारने के लिए ....  समाचार पढ़ें
पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की जीवनी में पीएम मोदी के कामकाज पर गंभीर सवाल जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 28, 2021
प्रधानमंत्री ये भूल गए की कोई भी भारतीय विदेशों में या किसी भी बड़े पद पर बैठता है तो वो राष्ट्र की नीति से काम करता है ना कि अपनR निजी मान्यताओं के मुताबिक. हांलाकि शाम को बालयोगी ऑडिटोरियम में आयोजित मेरे विदाई कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेरे कार्यकाल के दौरान मिली सीख से जनता के प्रति नीतियों में फायदा होगा. मगर मीडिया ने इस भाषण को तवज्जो नहीं दिया. ....  समाचार पढ़ें
40 वर्ष बाद...हाथों में हिंदी की सरस्वती गौरव अवस्थी ,  Oct 18, 2020
सरस्वती। आपने सही पढ़ा। हां! वही सरस्वती जिसके संपादन से महावीर प्रसाद द्विवेदी को "आचार्य" पद प्राप्त हुआ। हिंदी साहित्य के प्रथम आचार्य माने और जाने गए। ऐसी "पद प्रतिष्ठा" उनके पहले हिंदी साहित्य में किसी को भी प्राप्त नहीं हुई। महाप्राण निराला उन्हें 'आचार्य' कहते-लिखते थे। जाने-माने आलोचक डॉ. नामवर सिंह ने भी इस बात पर मुहर लगाई कि महावीर प्रसाद द्विवेदी ही हिंदी के प्रथम 'आचार्य' माने गए। उनके पहले इस 'पद' पर केवल संस्कृत के विद्वान ही प्रतिष्ठित किए जाते रहे। ....  समाचार पढ़ें
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू की किताब 'मूविंग आन मूविंग फारवर्ड, ए इयर इन ऑफिस' के विमोचन के मौके पर जुटी हस्तियां जनता जनार्दन संवाददाता ,  Sep 02, 2018
उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति के रूप में वेंकैया नायडू की पहली पुस्तक 'मूविंग आन मूविंग फारवर्ड, ए इयर इन ऑफिस' का विमोचन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया. इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद रहे. ....  समाचार पढ़ें
जयपुर बुकमार्क 2018: जहां किताबों का मतलब है कारोबार जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 20, 2018
भारतीय प्रकाशन उद्योग की ओर दुनिया भर का ध्यान केंद्रित है. नीलसन की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2017 में भारतीय पुस्तक बाजार का आकार 4.6 अरब डॉलर का था, जिसके कारण भारत दुनिया में अंग्रेजी भाषा के पब्लिशिंग उद्योग का दूसरा सबसे बड़ा बाजार बन गया। जयपुर बुकमार्क (जेबीएम) का पूरा ध्यान किताबों और अनुवाद के कारोबार की ओर केंद्रित है और यह ऐसे प्रमुख लोगों को एक साथ ले आता है जो इस उद्योग की वृद्धि के पीछे अहम कारण हैं। ....  समाचार पढ़ें
व्हाइट हाउस के एतराज के बावजूद ट्रंप पर लिखी किताब रिलीज अजय पुंज ,  Jan 05, 2018
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया कि उन्होंने लेखक माइकल वोल्फ को उनकी बुक 'फायर एंड फ्यूरी: इनसाइड द ट्रंप व्हाइट हाउस' के लिए व्हाइट हाउस तक कोई पहुंच मुहैया नहीं कराई. बता दें कि इस पुस्तक का आज ही विमोचन होगा. उन्होंने ट्वीट किया, ''मैंने इस झूठी किताब के लेखक को व्हाइट हाउस तक कोई पहुंच मुहैया नहीं कराई (बल्कि कई बार उसका प्रस्ताव ठुकरा दिया). मैंने किताब के लिए उनसे कभी बात नहीं की. यह किताब झूठ का पुलिंदा और ऐसे सूत्रों से भरी है जो अस्तित्व में ही नहीं हैं.'' ....  समाचार पढ़ें
हालिया दौर में प्रधानमंत्री मोदी जनता से बेहतर संवाद करने में सबसे दक्ष: राष्ट्रपति मुखर्जी जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 27, 2017
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शुक्रवार को जनता से बेहतर संवाद करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की. उन्होंने कहा कि मोदी जनता से कुछ वैसा ही संवाद करते हैं जैसे जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी करते थे. वह अपनी बात बेहतरीन ढंग से कहने में दक्ष लोगों में शामिल हैं तथा उन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था को नई दिशा दी है. ....  समाचार पढ़ें
कंपाउंडर बनने लायक नहीं था, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन गया: शत्रुघ्‍न सिन्‍हा जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 30, 2017
हमेशा अपने बयानों को लेकर आलोचना झेलने वाले भाजपा नेता और फिल्‍म स्‍टार शत्रुघ्‍न सिन्‍हा का नया बयान आया है। अपने इस बयान में उन्‍होंने कहा है कि मैं तो कंपाउंडर बनने लायक नहीं था लेकिन स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन गया। ....  समाचार पढ़ें
आडवाणी गुट द्वारा तख्तापलट को लेकर सशंकित थे वाजपेयी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 07, 2017
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी 2002 में अपनी पार्टी के अंदर से ही लाल कृष्ण आडवाणी गुट द्वारा तख्तापलट को लेकर सशंकित थे। हाल ही में आई वाजपेयी की एक नई जीवनी में इस बात का खुलासा किया गया है। पेशे से पत्रकार उल्लेख एन. पी. की पेंगुइन प्रकाशन समूह से प्रकाशित वाजपेयी की जीवनी 'द अनटोल्ड वाजपेयी: पॉलिटीशियन एंड पैराडॉक्स' में यह खुलासा हुआ है। ....  समाचार पढ़ें
पाठकों के हाथ आई 'पकी जेठ का गुलमोहर' श्रेष्ठ गुप्ता ,  Oct 01, 2016
वाणी प्रकाशन की प्रस्तुति में भगवानदास मोरवाल की नवीनतम कृति 'पकी जेठ का गुलमोहर' का कल शाम विमोचन और साथ ही पुस्तक परिचर्चा सफलतापूर्वक समाप्त हुआ. दिल्ली के ओक्सपोर्ड बुक स्टोर में हुए इस परिचर्चा में वाणी प्रकाशन के प्रकाशक अरुण माहेश्वरी, साथ ही उनकी बेटी अदीति माहेश्वरी औऱ मुख्य वक्ता के तौर पर आए मीडिया विशेषज्ञ अनंत विजय और परवेज़ आलाम ने एक साथ मंच साझा कर किताब का विमोचन किया. ....  समाचार पढ़ें
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल