Saturday, 16 January 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
साहित्य
'गांधी की परिकल्पना का भारत' विषय पर परिचर्चा एवं कविता पाठ से झूम उठा बेगूसराय साहित्य-प्रेमी समुदाय जनता जनार्दन संवाददाता ,  Oct 05, 2018
विप्लवी पुस्तकालय, प्रलेस बेगूसराय एवं नीलांबर कोलकाता के संयुक्त तत्वावधान में पिछले दिनों गोदरगावां के चर्चित विप्लवी पुस्तकालय में 'गांधी की परिकल्पना का भारत' विषय पर परिचर्चा एवं कविता पाठ का शानदार आयोजन किया गया. ....  समाचार पढ़ें
डॉ शम्भुनाथ सिंह की 27वीं पुण्यतिथि पर गोष्ठी, सम्मान और काव्यांजलि जनता जनार्दन संवाददाता ,  Sep 06, 2018
हिंदी साहित्य में नवगीत को महत्त्वपूर्ण स्थान दिलाने में डॉक्टर शम्भुनाथ सिंह की बेहद खास भूमिका रही, इसीलिए उन्हें नवगीत का शिखर पुरूष माना जाता है. उन्होंने ही सर्वप्रथम 1954-55 में इलाहाबाद में परिमल की गोष्ठी में नवगीत शब्द का प्रयोग किया था जो आज एक विशाल वटवृक्ष का रूप ले चुका है. ....  समाचार पढ़ें
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू की किताब 'मूविंग आन मूविंग फारवर्ड, ए इयर इन ऑफिस' के विमोचन के मौके पर जुटी हस्तियां जनता जनार्दन संवाददाता ,  Sep 02, 2018
उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति के रूप में वेंकैया नायडू की पहली पुस्तक 'मूविंग आन मूविंग फारवर्ड, ए इयर इन ऑफिस' का विमोचन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया. इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद रहे. ....  समाचार पढ़ें
 इस्मत चुग़ताई की याद में गूगल ने बनाया डूडल, पर क्या वाकई उनका जन्मदिन आज है? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 21, 2018
उर्दू की मशहूर और सबसे विवादित लेखिकाओं में शुमार इस्मत चुग़ताई के 107वें जन्मदिन पर गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया है. कुछ लोग मानते हैं कि उनका जन्म 15 अगस्त, 1915 को हुआ था. पता नहीं कब और कैसे यह 21 अगस्त हो गया. इस्मत चुग़ताई का 107वां जन्मदिन नाम का टाइटल देकर गूगल ने बिंदास और बोल्ड लेखनी के लिए मशहूर 'इस्मत आपा' को श्रद्धांजलि दी है. ....  समाचार पढ़ें
गूगल ने महादेवी वर्मा को समर्पित किया डूडल, आज के दिन ही मिला था उन्हें ज्ञानपीठ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 27, 2018
सर्च इंजन गूगल आज स्वतंत्रता सेनानी, मशहूर हिंदी कवयित्री, महिला अधिकारों की कार्यकर्ता और समाजसेवी महादेवी वर्मा को विशेष डूडल बनाकर याद कर रहा है. इस दिन महादेवी वर्मा को भारतीय साहित्य में अतुलनीय योगदान के लिए 'ज्ञानपीठ पुरस्कार' से सम्मानित किया गया था. आज गूगल ने इसी यादगार दिन को फिर से याद किया है. ....  समाचार पढ़ें
उपवास कब... अमित मौर्य ,  Apr 13, 2018
यह कविता लिखा है गूंज उठी रणभेरी साप्ताहिक अख़बार के संपादक अमित मौर्या ने,अमित मौर्या अक्सर बेबाक लेखनीय के लिए जाने जाते है,वाराणसी से इनका अखबार प्रकाशित होता है और तेजी से आगे बढ़ रहा है,वाराणसी से अमित मौर्या की कलम से जनता जनार्दन वेबसाइट में भी.... ....  समाचार पढ़ें
रवीन्द्रनाथ त्यागी स्मृति सम्मान 2018: डाॅ. शेरजंग गर्ग को शीर्ष सम्मान, डॉ लालित्य ललित को सोपान सम्मान जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 09, 2018
प्रख्यात साहित्यकार श्रीमती चित्रा मुद्गल की अध्यक्षता में 7 अप्रैल को रवीन्द्रनाथ त्यागी स्मृति सम्मान निर्णायक- समिति की बैठक हुई। बैठक में निर्णायक समिति के सदस्य डॉ कमलकिशोर गोयनका, डॉ प्रताप सहगल, डॉ हरीश नवल, डॉ प्रेम जनमेजय तथा श्रीमती शारदा एवं श्रीमती इंदु त्यागी, फोन पर, चर्चा के लिए उपस्थित थे। दो घंटे चली इस बैठक में खुली चर्चा हुई। बैठक में सर्व सम्मति से डॉ शेरजंग गर्ग को शीर्ष सम्मान एवं डॉ लालित्य ललित को सोपान सम्मान से सम्मानित करने का निर्णय लिया गया। ....  समाचार पढ़ें
नोबेल पुरस्कार विजेता गेब्रियल गार्सिया मारक्वेज की 91वीं जयंती पर गूगल ने बनाया डूडल जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 06, 2018
आज कोलंबियन मूल के महान लेखक और नोबेल पुरस्कार विजेता गेब्रियल गार्सिया की 91 वीं जयंती है. गूगल ने लेखन की कृतियों के प्रति सम्मान जताते हुए आज का डूडल उन्हें समर्पित किया है. 6 मार्च, 1927 को कोलंबिया में जन्मे गेब्रियल को उनके प्रशंसक गैबो के नाम से भी पुकारते हैं. ....  समाचार पढ़ें
जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 26, 2018
दुनिया भर में तेज़ी से बढ़ती पर्यावरण संबंधी समस्याओं के समाधान के लिए साहित्य को ज़रिया बनाने की प्रतिबद्धता के तहत ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के 11वें संस्करण में समुद्रों, नदियों, पहाड़ों, वनों, वन्य जीवन और ऐसी प्राकृतिक संपदाओं को संरक्षण के लिए गंभीर संवाद शुरू किया है। इसके लिए संरक्षण एवं पर्यावरण संबंधी मुद्दे पर केंद्रित सत्रों का आयोजन किया गया। ....  समाचार पढ़ें
ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 में साहित्य, थिएटर, नृत्य और कविताओें की प्रस्तुति जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 26, 2018
ज़ी जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2018 साहित्य और प्रदर्शन कलाओं के संबंधों की संभावनाएं तलाशने के लिए पूरी तरह से तैयार है, जिसके विभिन्न सत्र थिएटर, संगीत, नृत्य और प्रदर्शन कविताओं के स्वाद से समृद्ध होंगे। भारत की स्वतंत्रता के 70 वर्षों और यूके भारत संस्कृति वर्ष के उत्सवों के अंतर्गत अपने विश्वस्तरीय प्रीमियर के मौके पर भारतीय नृत्य के यूके के प्रमुख निर्माता एकेडमी द्वारा पेश किया जाने वाला द ट्राथ 1915 की लघु कथा चंद्रधर शर्मा गुलेरी की उसने कहा था पर आधारित है। ....  समाचार पढ़ें
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल