शिक्षा
  • खबरें
  • लेख
कोरोना महामारी में डॉ महबूब हसन असिस्टेंट प्रोफेसर उर्दू विभाग आपसे अपील कर रहे हैं कि...? अमिय पाण्डेय ,  Apr 03, 2020
इस वक़्त पुरी दुनिया पर महामारी और संकट के घने बादल छाए हुए हैं। अफसोस कि हम भारतवासी भी कोरोना वाइरस जैसी विनाशकारी बीमारी से दो चार हैं। ऐसे में हर देशवासी का परम दायित्व और फर्ज है कि वो सरकार के आदेशों और नियमों का सहर्ष पालन करे। हम ने समय समय पर नाना प्रकार के संकटो को परास्त किया है। हमें पूरा यक़ीन है कि आप सभी के सहयोग से जल्द ही दुख के ये बादल छट जाएंगे। इस लिए हौसले और धैर्य से काम लीजिए। शासन एवं प्रशासन के नियमों का ईमानदारी के साथ पालन करने के साथ साथ अपने आसपास के लोगों की दिल खोल कर मदद करें। हमारी एक छोटी सी मदद गरीब और लाचार इंसान के चेहरे पर खुशी ला सकती है। मानव ईश्वर की सर्वश्रेष्ठ रचना है। मानव सेवा निश्चित तौर पर हमारे लिए सुख और समृद्धि के दरवाज़े खोलती है। धर्म-संप्रदाय, रंग-नस्ल और जाति-क्षेत्र से ऊपर उठ हमें वतन-परस्ती और देश-भक्ति का झंडा बुलंद करने की सख्त जरूरत है। अपने इस मुल्क की सलामती, हिफाजत और सुख-शांति के लिए प्रत्येक देशवासी का सहयोग अत्यंत आवश्यक है। ....  समाचार पढ़ें
चंदौली: खण्डवारी ग्रुप चहनियां ने पीएम रिलीफ फण्ड में सहायता राशि के रूप में दिया 1 लाख  अमिय पाण्डेय ,  Apr 02, 2020
चंदौली: कोरोना महामारी के बीच राहत भरी खबर सामने आ रही है जहा एक ओर  महामारी से लोग परेशान है यह चिंता का विषय तो  है ही ! लेकिन इससे निपटने के लिए तमाम सेलिब्रेटी, उधोग जगत, शिक्षा जगत, राजनीती क्षेत्र या मीडिया के लोगो ने पीएम रिलीफ फण्ड में दान किया जिससे जरुरतमंदो की सेवा की जा सके.चंदौली जनपद की अगर बाते करे तो पीएम रिलीफ फण्ड में खण्डवारी देवी संस्थान ने 1 लाख रूपये की सहायता राशि दी है. ....  समाचार पढ़ें
जरूरतमंदों के लिये आगे आयी बंसन्त शिक्षा समिति ट्रस्ट, जरूरतमंदों राहगीरो को देगी अनाज अमिय पाण्डेय ,  Apr 01, 2020
बंसन्त शिक्षा समिति ट्रस्ट अब राहगीरो को अनाज भी देगी साथ ही जरूरतमन्द लोगो के लिये भी उसके पास अनेकों चीज़े है जिससे वह आसानी से उनतक पहुचा सके ....  समाचार पढ़ें
बंसन्त शिक्षा समिति ट्रस्ट मिर्ज़ापुर आपसे अपील करता है कि....? अमिय पाण्डेय ,  Mar 29, 2020
बंसन्त शिक्षा समिति मिर्जापुर आपसे निम्न अपेक्षाएं रखता है साथ ही अपील करता है कि आप लोग घरों में रहे ....  समाचार पढ़ें
कोरोना हारेगा भारत जीतेगा, कोरोना-कोई रोड पर न निकले: डॉ. आशुतोष कुमार सिंह निदेशक माँ खण्डवारी पीजी कॉलेज अमिय पाण्डेय ,  Mar 29, 2020
कोरोना और उसका कहर इनदिनों तेजी आई बाढ़ जैसे बढ़ रहा और इनके नए नए मामले तेजी से सामने आ रहे है कोरोना को हरा सकते लेकिन अपने घरों में रहकर ....  समाचार पढ़ें
कृपया घरों से बेवजह बाहर न निकलें कोरोना को हराना हम सबकी जिम्मेदारी: प्रबन्धक बसन्त रामनगीना पी.जी.कालेज धराव चन्दौली अमिय पाण्डेय ,  Mar 29, 2020
कोरोना को हराने की हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी है इसी को देखते हुये बंसन्त रामनगीना पीजी कालेज भी लोगो से अपील किया ....  समाचार पढ़ें
बच्चों को स्कूल पहुंचाएगी शारदा, आउट आफ स्कूल वाले बच्चों के लिए चलेगा शारदा अभियान: डीएम चन्दौली अमिय पाण्डेय ,  Mar 04, 2020
परिषदीय विद्यालयों में 'शारदा' स्कूल हर दिन आए कार्यक्रम के तहत शिक्षा को मजबूत किया जायेगा। स्कूलों में छात्र-छात्राएं पंजीकृत तो है, लेकिन स्कूल काम पहुंचते है, ऐसे बच्चों को कार्यक्रम के तहत उपस्थिति बढ़ाई जाएगी। उन बच्चों को भी चिन्हित किया जायेगा, जो स्कूल नहीं आते है। शासन ने पंजीकृत बच्चों को नियमित पढ़ाई कराने, निरंतर अनुपस्थित रहने वाले विद्यार्थियों को उप ....  समाचार पढ़ें
कल माँ खंडवारी पीजी कॉलेज चहनियां आ रहे महात्मा गांधी काशी विधापीठ के कुलपति अमिय पाण्डेय ,  Feb 29, 2020
महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के कुलपति टीएन सिंह कल चहनियांमें होंगे इस दौरान वह कुछ समय रहेंगे. ....  समाचार पढ़ें
बंसन्त रामनगीना पीजी कॉलेज धरावं में विद्यार्थियों को मिलेगी फ्री वाई-फाई की सुविधा, पूरा कैंपस हुआ डिजिटल अमिय पाण्डेय ,  Feb 25, 2020
चंदौली में बंसन्त रामनगीना पीजी कॉलेज फ्री वाईफाई कैम्पस देने वाला पहला महाविद्यालय बना जहा अब छात्र छात्राओं फ्री वाई फाई की सुविधा मील ....  समाचार पढ़ें
चंदौली: माँ खंडवारी देवी इंटर कॉलेज सहित दर्जनों कॉलेज पर बोर्ड परीक्षा के मद्देनजर डीएम ने किया निरीक्षण अमिय पाण्डेय ,  Feb 17, 2020
माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश प्रयागराज द्वारा संचालित बोर्ड परीक्षा वर्ष 2020 की तैयारियों का निगरानी के लिए जनपद के सकलडीहा इंटर कॉलेज, माँ खंडवारी देवी इंटर कॉलेज चहनियां, जटाधारी इंटर कॉलेज मारूफपुर, हाजी मुहम्मद अयूब मेमोरियल इंटर कालेज नैढ़ी का जिलाधिका ....  समाचार पढ़ें
कश्मीरी छात्रों की किस्मत बदलने का बीड़ा आईआईटी छात्रों ने उठाया जनता जनार्दन डेस्क ,  May 19, 2017
कश्मीर में सिर्फ पत्थरबाज ही नहीं, बल्कि देश के शीर्ष संस्थानों में अपनी कामयाबी का झंडा गाड़ने को आतुर मेधावी छात्र भी रहते हैं, जिनके भीतर हर वक्त कुछ कर गुजरने का जज्बा होता है. लेकिन, घाटी के बद से बदतर होते हालात के कारण न तो उन्हें निर्बाध इंटरनेट सेवाएं मिल पा रही हैं ....  लेख पढ़ें
'जिल्लत की जिंदगी जीने से बेहतर है बंदूक उठाना' जनता जनार्दन डेस्क ,  May 19, 2017
धरती का स्वर्ग' कहे जाने वाले कश्मीर के लोगों में सरकार विश्वास पैदा करने को लेकर हरसंभव प्रयत्न कर रही है, लेकिन कुछेक घटनाएं ऐसी घट जाती हैं, जिनसे सारे प्रयासों पर पानी फिर जाता है। एक ऐसे ही मामले में कश्मीर के एक छात्र ने कहा है कि सुरक्षाबलों द्वारा उन्हें आतंकवादी के रूप में देखे जाने और 'जिल्लत की जिंदगी जीने से बेहतर' है कि वे बंदूक उठा लें। ....  लेख पढ़ें
5 सालों में सरकारी स्कूलों में घटे 1.3 करोड़ छात्र, निजी स्कूलों में बढ़े 1.7 करोड़ विद्यार्थी देवानिक साहा ,  Apr 20, 2017
देश के 20 राज्यों में पिछले पांच वर्षो के दौरान सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या में 1.3 करोड़ की कमी आई है, जबकि दूसरी ओर निजी स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या में 1.7 करोड़ का इजाफा हुआ है। हाल ही में आए एक अध्ययन में यह खुलासा हुआ, जो देश के सरकारी स्कूलों में शिक्षा की खस्ताहालत को बयां करती है। ....  लेख पढ़ें
हर एक घंटे देश में एक विद्यार्थी कर रहा है खुदकुशी देवानिक साहा ,  Apr 10, 2017
मेडिकल जर्नल लांसेट की 2012 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 15 से 29 साल के बीच के किशोरों-युवाओं में आत्महत्या की ऊंची दर के मामले में भारत शीर्ष के कुछ देशों में शामिल है। इसलिए समस्या को गंभीरता से लिए जाने की जरूरत है। ....  लेख पढ़ें
नोटबंदी के बाद उच्च शिक्षा और शोध का भी कायाकल्प कर सकते हैं मोदी सहाना घोष ,  Jan 16, 2017
नरेंद्र मोदी सरकार को अब उच्च शिक्षा और शोध बढ़ावा देने वाले विश्वविद्यालय अनुदान आयोग जैसे निकायों के कायाकल्प के लिए उसी तरह की निश्चितता दिखानी चाहिए जैसी उसने नोटबंदी को लेकर दिखाई है। ये बातें एक विख्यात वैज्ञानिक ने कहीं। ....  लेख पढ़ें
बिना 'बस्ता' स्कूल चले हम! एकान्त प्रिय चौहान ,  Jul 30, 2016
क्या ये संभव है, जब छोटे-छोटे नन्हे बच्चे बिना बस्ते के ही स्कूल जाते-आते नजर आएं, शायद लोग कहें कि ये संभव नहीं है, लेकिन छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में ऐसा ही हो रहा है. बालोद के कलेक्टर राजेश सिंह राणा ने यह अनोखी शुरुआत की है. राणा ने कंधे पर बस्ता लटका कर स्कूल आ रहे बच्चों को बस्तों के बोझ से मुक्त करा दिया है. बच्चे अब उछलकूद करते खाली हाथ स्कूल आते-जाते हैं. ....  लेख पढ़ें
एम सी डी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता और दाखिला बढ़ाने के प्रयास Anshu Kumari ,  Jul 17, 2016
एक ओर जहां देश की राजधानी दिल्ली में MCD के स्कूलों में अनुबंधित शिक्षकों की पुनर्नियुक्ति के लिए शिक्षक संगठनों के बीच आपस में होड़ मची है और धरना प्रदर्शनों का दौर जारी है वहीं दूसरी ओर हम आपको एक ऐसे नायक से मिलवा रहे हैं जिनके प्रयासों की तरह अधिकांश शिक्षक कोशिश करें तो अनुबंधित शिक्षकों की पुनर्नियुक्ति नहीं बल्कि स्थायी नियुक्ति का रास्ता खुल सकता है। ....  लेख पढ़ें
निजी शिक्षा पर भारतीयों का जोर बढ़ा, 7.1 करोड़ लेते हैं ट्यूशन जनता जनार्दन डेस्क ,  May 17, 2016
हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में कहा था कि प्रत्येक सरकार को स्कूलों में नामांकन की जगह शिक्षा की गुणवत्ता और इसके परिणाम पर ध्यान देना चाहिए. ....  लेख पढ़ें
डिग्री की रेलमपेल, 'शिक्षा' फेल श्रेष्ठ गुप्ता ,  Mar 12, 2016
इस तरह शिक्षा व्यवस्था का कुल मकसद परीक्षा में अच्छे अंकों से पास कराने तक सीमित रह जाता है, और इस मकसद को पाने के चक्कर में बच्चें के जीवन में पढ़ाई का उद्देश्य दुनिया-जहान के बारे में एक ठोस समझ पैदा करना न बन कर इस बात पर टिक जाता है कि बचपन से किशोरावस्था तक बच्चे हर परीक्षा में अच्छे नंबरों से पास होते रहें, ताकि बड़े होने पर वे एक ठीक-ठाक नौकरी पा सकें, ....  लेख पढ़ें
स्कूल में सम-विषम की तर्ज पर छात्र-छात्राओं की पढ़ाई! जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 01, 2016
दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण पर नियंत्रण करने के लिए दिल्ली सरकार ने वाहनों के रजिस्ट्रेशन संख्या के आधार पर सम-विषम की व्यवस्था लागू की थी लेकिन यह जानकर आपको आश्चर्य होगा कि बिहार के सारण जिले के एक स्कूल में पढ़ाई के लिए भी इसी तर्ज यानी एक दिन लड़के और एक दिन लड़कियों की पढ़ाई होती है। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल