राजनीति
  • खबरें
  • लेख
भारतीय लोकतंत्र का नवीन युग एवं मोदी के समक्ष चुनौतियाँ डॉ संजय कुमार ,  Jun 07, 2019
१७वें लोकसभा चुनाव में मोदी एवं भाजपा की जबरदस्त जीत ने भारतीय लोकतंत्र में एक नयी गाथा लिख दी है. यह गाथा भविष्य में कितना कारगर सिद्ध होगा, यह तो समय हीं बतायेगा. परन्तु उतर प्रदेश सहित उत्तर भारत के लगभग सभी राज्यों में इस अभूतपूर्व जीत के क्या मायने हैं? क्या अब यह मान लिया जाना चाहिए कि अब भारतीय राजनीति की धुरी कांग्रेस से हटकर भाजपा हो गयी है. एक प्रकार से भाजपा का पैन - इंडिया प्रसार लगभग पूरा होता दिख रहा है. तमिलनाडु, आन्ध्राप्रदेश, और केरल को छोड़कर भाजपा का परचम सभी जगह लहरा रहा है. तो क्या यह विजय राष्ट्रवाद की है अथवा जातिविहीन समतामूलक समाज के स्थापना की है. इसके निहितार्थ तो फिलहाल भविष्य के गर्त में छिपे है, परन्तु जीत के इस घोड़े पर सवार मोदी – शाह की जोड़ी भारतीय लोकतंत्र की एक नयी इबारत तो लिख हीं चुकी है. इस जीत के कारण क्या रहे? अब इस पर ज्यादा बहस ....  समाचार पढ़ें
बृद्धजन पेंशन योजना के लिए एसोसिएशन ने दी मुख्यमंत्री को बधाई  जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 15, 2019
बैठक में सर्व श्री गोरखनाथ विमल,शिवजग प्रसाद,सत्यनारायण स्वामी,रामायण पांडेय एलौंन,जगरोपन सिंह,ई.शिवदयाल सिंह,प्रो.शितला प्रसाद तिवारी,डा.लालधारी सिंह,विजय कुमार अम्बष्ट,रामायण सिंह,काशीनाथ तिवारी,सूर्यनाथ सिंह,रामजन्म शर्मा,वासुदेव सिंह,दीनानाथ सिंह,मनोज राय, दिनेश राय,रणविजय सिंह,सरदार अरविन्द सिंह,इंद्रावती कुवर, बिजय शर्मा,चन्द्रशेखर सिंह,हरिहर प्रसाद सिंह सहित कई लोग उपस्थित थे। ....  समाचार पढ़ें
लोकसभा चुनाव 2019: दलित, ब्राह्मण, यादव मुस्लिम का भाईचारा, इनके आगे हर कोई हारा': BSP ने दिया स्लोगन जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 13, 2019
हालांकि, बीएसपी की तरफ से मंगलवार को ये बयान आया था कि आगामी लोकसभा चुनावों में भी 'हाई टेक प्रचार प्रसार' से दूर रहेगी और पार्टी पुराने परंपरागत तरीके अपनाकर ही चुनाव मैदान में उतरेगी. आपको बता दें कि हाल ही में मायावती ट्विटर से जुड़ी और कुछ ही दिनों में उनके फॉलोअर की संख्या करीब डेढ़ लाख तक पहुंच गई है. ट्विटर पर आने के बाद से मायावती ने अपनी बात कहने का इस समय सबसे बड़ा सहारा बनाया है. ....  समाचार पढ़ें
15 सीट लेकर कांग्रेस मिला सकती है सपा-बसपा से हाथ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 07, 2019
एयर स्ट्राइक के बाद उत्तर प्रदेश के राजनीतिक समीकरण बदल गए हैं. कांग्रेस को अलग-थलग कर गठबंधन का ऐलान करने वाले सपा-बसपा ने नए सिरे से राजनीतिक समीकरण बनाने में जुट गए है. सपा-बसपा ने गठबंधन में पहले आरएलडी को शामिल किया और अब कांग्रेस को हिस्सेदार बनाने की कवायद की जा रही है. माना जा रहा है कि सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस को 15 सीटें मिल सकती हैं. ....  समाचार पढ़ें
यूपी के मुख्यमंत्री एक बाबा हैं: अखिलेश यादव जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 02, 2019
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने शनिवार को इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में हिस्सा लिया. राजदीप सरदेसाई के साथ चर्चा करते हुए अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि हमें खुशी है कि हमारा मुख्यमंत्री एक बाबा है, उन्हीं के आशीर्वाद से हम जीत हासिल करेंगे. ....  समाचार पढ़ें
#चंदौली में राजनाथ की सिंह गर्जना पाकिस्तान में कूबत नहीं है तो आतंकवाद के सफाये के लिए भारत देगा सहयोग अमिय पाण्डेय ,  Mar 02, 2019
आज चन्दौली के चकिया के सोनहुल गांव सीआरपीएफ के ग्रुप सेंटर का केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आधार शिला रखकर अपने गृह जनपद को सौगात दी है।कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए स्थानीय विधायक शारदा प्रसाद ने कहा कि गृहमंत्री जी के प्रयास से चुनार चकिया कुदरा रेल मार्ग पर सर्वे काम तेजी से चल रहा है और मुगलसराय चकिया मधुपुर की सड़क चार लेन बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है। ....  समाचार पढ़ें
लोकसभा चुनाव के लिए राहुल गांधी की नई टीम, लीड रोल में राज बब्बर जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 24, 2019
कांग्रेस अध्यक्ष ने उत्तर प्रदेश में अपने सेनापति राज बब्बर पर एक बार फिर से भरोसा जताते हुए हुए उन्हें शक्तिशाली चुनाव समिति का अध्यक्ष बनाया है. इस कमेटी में राज बब्बर समेत 33 सदस्य हैं. इस कमेटी के अहम सदस्यों में है विधानसभा में कांग्रेस के नेता अजय कुमार लल्लू, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री, पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद और आरपीएन सिंह. ....  समाचार पढ़ें
सपा-बसपा ने UP में बांटीं लोकसभा सीटें, पढ़ें- कहां कौन? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 21, 2019
लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी को मात देने के लिए समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन किया था. सपा-बसपा के बीच सीटों को लेकर सहमति बन गई है. सूबे में बसपा को सपा से ज्यादा सीटें मिली हैं. बसपा के खाते में 38 सीटें गई हैं तो सपा को 37 सीटें मिली हैं. दोनों पार्टियां किन-किन सीटों पर चुनावी मैदान में उतरेंगी इसकी घोषणा कर दी गई है. हालांकि दोनों पार्टियों ने बागपत, मथुरा और मुजफ्फरनगर सीटों छोड़ दी हैं. माना जा रहा है कि ये तीनों सीटें आरएलडी के खाते में गई हैं. ....  समाचार पढ़ें
राफेल पर घमासान के बीच मोदी सरकार ने राज्यसभा में पेश की CAG रिपोर्ट जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 13, 2019
कांग्रेस के आरोपों पर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने ब्लॉग के जरिए जवाब दिया. उन्होंने लिखा कि कांग्रेस पार्टी जानती है 500 और 1600 करोड़ की कहानी एक फिक्शनल कहानी है, यही कारण है कि कैग की रिपोर्ट आने से पहले वह इस प्रकार के मनगढंत आरोप लगा रहे हैं. ....  समाचार पढ़ें
अरविंद केजरीवाल बोले- न नरेंद्र मोदी, न राहुल गांधी, कोई और ही बनेगा प्रधानमंत्री जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 10, 2019
उन्होंने कहा कि मोदी जी का एक ही नारा, न काम करूंगा, न काम करने दूंगा. अमित शाह और नरेंद्र मोदी की जोड़ी लोगों को धर्म और जात के नाम पर लड़वा रहे हैं. तेलंगना में ज्वाला गुट्टा के पूरे परिवार का नाम कटा था, क्योंकि वो मोदी को वोट नहीं करती. बीजेपी वाले मुसलमानों से नफरत करते हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग गलतफहमी फैला रहे हैं कि फ्लाईओवर बना तो घर तोड़े जाएंगे, एक भी घर टूटने नहीं दूंगा. ....  समाचार पढ़ें
आर्थिक आरक्षणः एक औचित्यपूर्ण बहस डॉ शशिकान्त पाण्डेय एवं डॉ अमित सिंह ,  Feb 03, 2019
यह स्पष्ट है कि सरकारी नौकरियों में निजीकरण की प्रक्रिया शुरू होने के उपरान्त काफी कमी आयी है अतः 10 प्रतिशत आरक्षण समस्या का समाधान नहीं है। यदि सरकार वास्तव में किसानों-नौजवानों की समस्याओं के प्रति गंभीर है तो उसे लुभावने वायदों से आगे बढ़कर कृषि, शिक्षा-व्यवस्था में ढ़ाँचागत बदलाव लाने की तरफ अग्रसर होना होगा। ....  लेख पढ़ें
जब मुंह खोलेंगे झूठ ही बोलेंगे, साहेब का मुंह है या झूठ का छापाखाना अमित मौर्या ,  Feb 01, 2019
साहेब से 'लल्लनटॉप मैजिक' की उम्मीद लगाई जनता सब सुनती रही देखती रही। टाइम बीतता गया तो कुछ जनता बिदकने लगी और कुछ इनके मैजिक पर सवाल खड़ी करने लगी।हद तो तब हो गयी जब जमूरे 'शाह' ने साहेब के एक मैजिक, की सबके जेब (खाते) में पन्द्रह लाख रुपये होंगे को जनता को सम्मोहित करने का 'जुमला मंत्र' बता दिया यहीं से जनता की हिप्नोटाइज हो चुकी आंखे खुलने लगी। ....  लेख पढ़ें
2019 लोकसभा चुनाव से भारतीय लोकतंत्र एवं राजनीति का रोडमैप होगा निर्धारित प्रोफेसर शशिकान्त पाण्डेय, डॉ अमित सिंह ,  Jan 13, 2019
भाजपा बनाम कांग्रेस और मोदी बनाम राहुल गांधी के चर्चित और लोकप्रिय विमर्श के बजाय भारतीय राजनीतिक परिदृश्य में किसानों की ऋणमाफी के मुद्दों के माध्यम से किसानों और किसानी मुद्दा भारतीय राजनीति के चुनावी-विमर्श में छा जाना वर्ष 2018 की सबसे सुखद राजनीतिक मोड़ है और उपलब्धि भी ....  लेख पढ़ें
आखिर हम नेता किसे कहें ? अमित मौर्य ,  Jul 31, 2018
नेता" किसे कहा जाए ? आखिर "नेता" की परिभाषा क्या है ? नेता शब्द संस्कृति से आया है "नेता" वह जो नयन व्यापार करे यानी किसी चिन्हित लक्ष्य तक ले जाने का काम करे . Some time "actual meaning" of a word is different than the "notional meaning" . "Leader" is also one of the same . यहाँ "संगठन" और "गिरोह" के अंतर को भी समझना जरूरी है . संगठन सिद्धांतनिष्ठ होता है और गिरोह व्यक्तिनिष्ठ . नेता या Leader वह व्यक्ति होता है जो उस संदर्भगत तात्कालिक समाज को ऊष्मा का सुचालक बना कर अपने द्वारा लागू सांगठनिक अनुशाशन का अनुपालन करने को प्रेरित कर पालन भी करवाए . नेता वह व्यक्ति इकाई है जिस पर किसी चिन्हित उद्देश्य या विश्वास को लेकर अन्य बिखरी हुयी व्यक्ति इकाईयां आलाम्बित और घनीभूत (polarize ) होती हैं . नेता संगठन और संगठन के विघटन का कारक तत्व होता है पर गिरोह का नहीं . गिरोह में नेता नहीं होता सरगना होता है . आज कल प्रायः सभी राजनीतिक दल "संगठन ....  लेख पढ़ें
अविश्वास प्रस्ताव: अब मोदी सरकार के खिलाफ, पर क्या है इतिहास, कब गिरी सरकारें, बहस, मतदान और संख्याबल जनता जनार्दन डेस्क ,  Jul 19, 2018
भारतीय संसद में पहली बार अविश्वास प्रस्ताव 1963 में तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के खिलाफ आया था. प्रजा सोशलिस्ट पार्टी के तत्कालीन सांसद जेबी कृपलानी द्वारा नेहरू सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 62 वोट और विरोध में 347 वोट पड़े. इस तरह से ये अविश्वास प्रस्ताव औंधे मुंह गिर गया. ....  लेख पढ़ें
अमरिंदर बनाम सज्जन: कैप्टन और कर्नल की राजनीतिक लड़ाई जनता जनार्दन डेस्क ,  Apr 18, 2017
दो राजनेता, एक कनाडा के रक्षा मंत्री और दूसरे पंजाब के मुख्यमंत्री जिनके कनाडा से गहरे संबंध हैं। दोनों का राजनैतिक कद बड़ा है और दोनों सैन्य पृष्ठभूमि से हैं। एक युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में कनाडा की सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल रह चुका है जबकि दूसरे ने भारतीय सेना में कैप्टन की हैसियत से युद्ध को करीब से देखा है। ....  लेख पढ़ें
सीएम अखिलेश यादव बाहुबली मुख्तार पर हुए 'मुलायम' जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 25, 2016
उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सियासत की बिसात बिछनी शुरू हो गई है। कभी बाहुबली नेता डी.पी. यादव के खिलाफ सख्त रुख अपनाकर वाहवाही लूटने वाले सीएम अखिलेश को आखिरकार पूर्वाचल के राजनीतिक समीकरणों के चलते मऊ सदर से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ नरम रुख अपनाने को मजबूर होना पड़ा। ....  लेख पढ़ें
दिल, दल और दर्द जनता जनार्दन डेस्क ,  May 30, 2016
राजनीति में अक्सर दिलचस्प रिश्ते बनते हैं. इसमें दुहाई दिल की दी जाती है लेकिन दल, दर्द और पद लिप्सा के अलावा कुछ दिखाई नहीं देता. एक समय था तब बेनी प्रसाद वर्मा सपा में अमर सिंह के बढ़ते प्रभाव से बहुत नाराज हुए थे. अंतत: इसी मसले पर उन्होंने सपा छोड़ दी थी. दूसरी तरफ अमर सिंह को लग रहा था कि सपा में उनकी उपेक्षा हो रही है. रामगोपाल यादव और आजम खां जैसे दिग्गज उन्हें बर्दाश्त करने को तैयार नहीं थे. ....  लेख पढ़ें
भाजपा पीडीपी गठबंधन में दरार अब बन रही 'घाटी' जनता जनार्दन डेस्क ,  Mar 20, 2016
जम्मू एवं कश्मीर में पीडीपी के नेताओं ने कहा है कि पीडीपी और भाजपा के बीच अभी सब कुछ खत्म नहीं हुआ है, लेकिन जैसा प्रतीत होता है उसके मुताबिक अब इसमें थोड़ा ही संदेह रह गया है कि दोनों पार्टियों का गठबंधन अंतिम सांस नहीं गिन रहा है। ....  लेख पढ़ें
दिल्ली बिहार के झंझावात बीच मोदी रहे अडिग जनता जनार्दन डेस्क ,  Dec 30, 2015
बतौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले साल की बड़ी राजनैतिक घटनाओं में आम आदमी पार्टी का चमत्कारिक उभार और बिहार में नीतीश कुमार-लालू यादव की वापसी का स्थान काफी ऊपर है। विश्लेषकों का कहना है कि गुजरते साल 2015 में इन घटनाओं के बीच भी नरेंद्र मोदी के कदम मजबूती से बढ़ते रहे लेकिन यह जरूर हुआ कि उनके पहले वाले जादू में कमी आती देखी गई। ....  लेख पढ़ें
Indian Political System
INDIA is a Union of States. It is a Sovereign Socialist Democratic Republic with a parliamentary system of government. The Republic is governed in terms of the Constitution of India which was adopted by the Constituent Assembly on 26th November 1949 and came into force on 26th January 1950. It is a representative democracy, "in which majority rule is tempered by minority rights protected by law."<...ReadStory
वोट दें

क्या 2019 लोकसभा चुनाव में NDA पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ सकती है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल