प्रकृति
  • खबरें
  • लेख
दिल्ली-एनसीआर में  झमाझम बरसेंगे बदरा, इस तारीख तक रहेगी राहत जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 02, 2023
अप्रैल का महीना समुद्र में बिना किसी चक्रवाती तूफान के बीत गया है. बिना तूफान के गुजरा यह लगातार चौथा अप्रैल है. इससे पहले अप्रैल में आखिरी बार गंभीर चक्रवाती तूफान 'फोनी' आया था. हालांकि अब अप्रैल की तुलना में मई के महीने में चक्रवाती तूफान आने की ज्यादा संभावना बनी हुई है. मई के दूसरे सप्ताह के दौरान श्रीलंका से दूर भूमध्यरेखीय क्षेत्र में संवहन का एक कमजोर क्षेत्र विकसित हो रहा है. भारतीय समुद्र में अगला तूफान, जब भी यह बनेगा, इसे 'मोचा' नाम दिया जाएगा जिसका उच्चारण 'मोखा' किया जाएगा. ....  समाचार पढ़ें
इन इलाकों में अगले 72 घंटों तक होगी मूसलाधार बारिश जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 30, 2023
देश के ज्यादातर हिस्सों में बारिश का दौर शुरू हो गया है. लगातार कई दिनों तक प्रचंड गर्मी की मार झेलने के बाद दिल्ली और उत्तर प्रदेश समेत कुछ राज्यों में रुक रुक कर बारिश हो रही है. इस बीच अगले तीन दिनों तक बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में 1-3 मई के बीच भारी बारिश व बर्फबारी होगी. वहीं, उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश व कुछ जगह ओले गिरने की संभावना जताई गई है. ....  समाचार पढ़ें
अभी कयामत की ठंड बाकी, तापमान -4 तक गिरेगा? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 14, 2023
दिल्ली से लेकर पूरे उत्तर भारत में ठंड का सितम जारी है. दिल्ली में बीते दिनों न्यूनतम तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया था. इसके साथ ही एक मौसम विशेषज्ञ ने चौंकाने वाली भविष्यवाणी करते ....  समाचार पढ़ें
मॉनसून की तारीख आई सामने, जानिए केरल में कब देगा दस्तक जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 14, 2022
दक्षिण पश्चिम मॉनसून इस साल जल्दी दस्तक देगा और लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिलेगी. आईएमडी (IMD) ने शुक्रवार को घोषणा कर जानकारी दी कि बहुप्रतीक्षित दक्षिण-पश्चिम मॉनसून (Southwest Monsoon) 27 मई को केरल में दस्तक दे सकता है, जबकि यह 1 जून के आसपास आता है. ....  समाचार पढ़ें
गर्मी से मिलेगी राहत मौसम विभाग ने दी ये बड़ी जानकारी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 30, 2022
बुधवार को जारी किए गए पूर्वानुमान के मुताबिक आज (29 अप्रैल) एक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस सक्रिय होने वाला था, लेकिन इसका कोई खास असर नहीं हुआ और इस वजह से राजधानी में आज भी लू चल रही है. वहीं 29 अप्रैल को उत्तर भारत में धूल भरी आंधी की संभावना है और 1 से 2 मई तक तापमान में गिरावट आएगी. ....  समाचार पढ़ें
सूर्य से दस गुना अधिक उर्जा पैदा करने का दंभ भरने वाला चीन भारी बारिश और बाढ़ से हलकान जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 22, 2021
सूरज से दसगुना ज्यादा उर्जा पैदा कर प्रकृति पर विजय पा लेने की कोशिशों में जुटा चीन हजार सालों में सबसे भारी बरसात के चलते बाढ़ की एक बड़ी मुसीबस से जूझ रहा है. तेजी से बदलते पर्यावरण चक्र ने फिलहाल इस महाबली देश को घुटनों पर ला दिया है. चारों ओर पानी से अफरातफरी मची है. ....  समाचार पढ़ें
गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने लगा यास, 185 किमी प्रति घंटे हो सकती है रफ्तार जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 24, 2021
बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान की गति लगातार बढ़ती जा रही है. उसका असर आज से ही इस पूरे इलाके में दिखने की संभावना है. हालांकि यास पश्चिम बंगाल और उत्तर ओड़िशा के समुद्र तट से 26 मई की शाम को टकराएगा. ....  समाचार पढ़ें
पूरा लाल चांद और चक्रवाती तूफान यास का मेल हो सकता है बेहद खतरनाक, पीएम मोदी ने ली बैठक जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 23, 2021
फूल मून के दौरान समुद्र में ज्वार बहुत अधिक होता है. यदि ऐसे समय में तूफानी चक्रवात यास के साथ इसका मेल होता है, तो तूफान के समुद्री उछाल की कल्पना भी मुश्किल है. ऐसे में यह बहुत अधिक विनाशकारी होगा. ....  समाचार पढ़ें
यास बदल सकता है खतरनाक चक्रवाती तूफान में, पश्चिम बंगाल और ओड़िशा में चेतावनी, सतर्कता जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 22, 2021
देश के पूर्वी समुद्र तटीय क्षेत्रों में तूफान यास का खतरा मंडरा रहा है. बंगाल की खाड़ी में उठने वाला चक्रवाती तूफान यास जल्दी ही ओड़िशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में दस्तक दे सकता है. ....  समाचार पढ़ें
नए वर्ष वाले दिन शराब को कहे अलविदा, मौसम विभाग ने चेताया जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 27, 2020
दिल्ली: भारत मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि अगले कुछ दिन में उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है ऐसे में घर में बैठे-बैठे या नए साल की पार्टी में शराब पीना बहुत नुकसानदेह हो सकता है। प्रभाव आधारित अपने ताजा सलाह में मौसम विभाग ने कहा है कि 28 दिसंबर से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत ....  समाचार पढ़ें
मौसम का बदलता मिजाज दे रहा है क्या संकेत? जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 03, 2023
देश के तमाम इलाकों में मार्च के खत्म और अप्रैल के शुरू होते ही गर्मी का सितम देखने को मिला था. एक सप्ताह की चिलचिलाती गर्मी के बाद मौसम ने ऐसी करवट ली कि अब तक कूलर और एसी की जरूरत नहीं पड़ी है. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक ऐसा ही मौसम आने वाले कुछ दिनों तक बना रहेगा. मौसम में ये बदलाव क्यों हो रहा है? क्या यह बदलाव आने वाली किसी बड़ी समस्या का संकेत तो नहीं. ....  लेख पढ़ें
मई आ गई लेकिन गर्मी क्यों नहीं आई? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 29, 2023
अप्रैल का महीना खत्म होने में सिर्फ एक दिन शेष है. हर बार अप्रैल के महीने से ही गर्मी लोगों को झुलसाने लगती थी. धूप और गर्मी से बचने के लिए लोग तमाम उपाय करने लगते थे. लेकिन इस साल गर्मी से अब तक राहत है. गर्मी ने अपना प्रचंड रूप अभी तक नहीं दिखाया है. देश में ज्यादातर इलाकों में गर्मी ज्यादा नहीं पड़ रही. गर्मी से राहत को लेकर भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने विस्तार से बताया है. ....  लेख पढ़ें
चिलचिलाती धूप में मौसम विभाग ने दिया राहत भरा अपडेट जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 27, 2023
देशभर में बढ़ती गर्मी ने सिर्फ इंसानों को ही नहीं बल्कि पशु-पक्षियों को भी मुश्किल में डाल रखा है. रात में उमस बढ़ने की वजह से पंखे की हवा ने भी आराम देना बंद कर दिया है. दोपहर के वक्त में लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया है. लू भरी हवाएं स्किन को जलाने का काम कर रही हैं. गर्मी की इस तपिश के बीच मौसम विभाग ने राहत देने वाली खबर सुनाई है. मौसम विभाग ने कहा है कि आने वाले 5 दिनों में देश के अलग-अलग हिस्सों में लगातार बारिश देखने को मिलेगी. इसके अलावा मौसम के तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी. ....  लेख पढ़ें
विश्व का वजूद खतरे में, समुद्र का बढ़ता जलस्तर डुबा देगा दुनिया को जनता जनार्दन डेस्क ,  Mar 19, 2023
समुद्र का स्तर बढ़ने से दुनिया को खतरा है. एक ताजा शोध में कहा गया है कि इस सदी में समुद्र के स्तर में वृद्धि कुछ एशियाई मेगासिटी के साथ-साथ पश्चिमी उष्णकटिबंधीय प्रशांत द्वीपों और पश्चिमी हिंद महासागर को भी प्रभावित कर सकती है. ....  लेख पढ़ें
धरती को बचाना है तो हर कोई लगाए 5 पेड़ः 'वृक्ष बंधु' परशुराम सिंह अमिय पाण्डेय ,  Jul 09, 2018
पिछले दो दशक में एक लाख से ज्यादा पेड़ लगा कर उनकी देखभाल करने वाले परशुराम सिंह का मानना है कि बच्चों को शुरू से ही पर्यावरण के प्रति सचेत रहने कि शिक्षा दी जाये ताकि वे भविष्य में पर्यावरण को संतुलित रख सकें. गांव-गांव जाकर पर्यावरण के प्रति जागरूक करने के चलते सिंह को 'वृक्ष बंधू' की उपाधि मिल चुकी है और उन्हें मिले अवार्डों से उनका पूरा एक कमरा भरा है. ....  लेख पढ़ें
धरती पर चंद्रमा का असरः कभी केवल 18 घंटे का था दिन, बढ़ रही दूरी से जल्द ही 25 घंटे का होगा दिन जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 07, 2018
चंद्रमा के पृथ्वी से दूर जाने के कारण हमारे ग्रह पर दिन लंबे होते जा रहे हैं. एक अध्ययन में यह बात सामने आयी है कि 1.4 अरब वर्ष पहले धरती पर एक दिन महज 18 घंटे का होता था. संभव है कि धरती से चंद्रमा की बढ़ती दूरी के चलते आने वाले समय में धरती पर 25 घंटे का दिन होने लगे. ....  लेख पढ़ें
विश्व पर्यावरण दिवस 2018: जब जीवन ही न होगा, तो कहां होंगे हम जय प्रकाश पाण्डेय ,  Jun 05, 2018
विश्व पर्यावरण दिवस हर साल हमें इस बात का मौका देता है कि हम देखें, समझें और जानें कि प्रकृति के संरक्षण में हर व्यक्ति, परिवार, गांव, शहर, जाति, राज्य, देश और समूचे विश्व की क्या भूमिका है. सारी दुनिया में विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है. ....  लेख पढ़ें
विश्व पृथ्वी दिवस : हमें पेड़ लगाने ही होगें,हम स्वार्थी इंसानों के पास और कोई विकल्प नहीं  आकांक्षा सक्सेना ,  Apr 22, 2018
हमने जबसे याद सम्भालीं है तब से यही सुनते चले आ रहे हैं कि पृथ्वी हमारी माता है और सुबह जागते ही पृथ्वी पर पांव रखने से पहले पृथ्वी माता के पांव छूओ। यह हैं हमारे भारतीय संस्कृति और संस्कार पर कहते हैं न पूर्वजों की कहीं बातें सिर्फ हमने सुनी और लिखीं पर अफसोस! अमल में न ला सके। आज हमारी महत्वाकांक्षायें अंतरिक्ष के साथ-साथ पृथ्वी माँ का भी कलेजा चीरती हुई दिखाई पड़ती है कि आज जंगल न के बराबर बचे हैं। एक समय था हर भारतीय चंदन लगाता था पर आज चंदन की लकड़ी के दर्शन दुर्लभ हैं ....  लेख पढ़ें
घर में लगाएं ये लाभकारी पौधेः इनसे बचता है पर्यावरण, बनता है स्वास्थ्य, आती है समृद्धि श्वेता झा ,  Nov 30, 2017
हम सबको इसके लिए अपनी दिनचर्या में कुछ अहम बदलाव लाने होंगे. अब तक मैं, आप, हम सभी ने कई अवसरों पर अपने दोस्तों, रिश्तेदारों को बहुत से तोहफे दिए होंगे, बहुत से लिए भी होंगे, पर क्यों ना हम सब अब प्रण लें आने वाले समय में एक दूसरे को पेड़ पौधें गिफ्ट करें और एक कदम स्वच्छ हवा की ओर बढ़ाएं. ....  लेख पढ़ें
प्रकृति की अनदेखी का खामियाजा भुगतने को रहें तैयार जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 05, 2017
प्रकृति हो या मानव जीवन समाज हो अथवा देश, सभी की उचित स्थिति सुख-समृद्धि तभी तक रह सकती है, जब तक उनमें पर्याप्त संतुलन बना रहे। लेकिन कुछ सालों से पर्यावरण पूरी तरह से असंतुलित हो गया है। पर्यावरण दिवस मनाने के मायने क्या हैं, इसको समझना जरूरी है ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल