प्रकृति
  • खबरें
  • लेख
नासा ने सौर मंडल के बाहर धरती जैसे 10 नए ग्रह खोजे जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 20, 2017
स्पेस एजेंसी नासा ने हमारे सौर मंडल के बाहर 219 नए ग्रहों को खोज निकाला है। फिलहाल यही संभावना है कि ये सभी खगोलीय पिंड ग्रह ही हैं। इनमें से 10 ऐसे भी ग्रह हैं, जो बिल्कुल धरती की तरह हैं। इन दसों ग्रहों की परिस्थितियां भी धरती जैसी होने की उम्मीद जताई जा रही है। ....  समाचार पढ़ें
विश्व पर्यावरण दिवस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- पृथ्वी को बेहतर ग्रह बनाने के लिए प्रतिबद्ध जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 05, 2017
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर पृथ्वी को एक बेहतर ग्रह बनाने की जरूरत पर जोर दिया. उन्होंने पर्यावरण संरक्षण की दिशा में काम कर रहे लोगों को सलाम भी किया ....  समाचार पढ़ें
मॉनसून की बारिश में भीगा केरल और उत्तर पश्चिम जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 30, 2017
भीषण गर्मी से परेशान लोगों और देश भर के किसानों के लिए खुशखबरी है. मॉनसून केरल और उत्तर पश्चिम में पहुंच गया है. इस बार यह समय से दो दिन पहले दस्तक दी है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के डायरेक्टर जनरल केजे रमेश की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस बार मॉनसून ने केरल के अलावा उत्तर पूर्व में भी समय से पहले दस्तक दी है. ....  समाचार पढ़ें
हरिद्वार में गंगा का पानी, नहाने के लायक भी नहीं: आरटीआई का जवाब जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 18, 2017
गंगा में स्नान करने से भले आपके पाप 'धुल' जाएं, लेकिन इसका पानी आपको बीमार कर सकता है। हरिद्वार जाकर आप गंगा में डुबकी लगाकर अच्छा महसूस करते होंगे, लेकिन यकीन मानिए यहां पानी इतना गंदा है कि पीना तो दूर, नहाने लायक भी नहीं बचा है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड( ....  समाचार पढ़ें
धरती दिवस 2017: हमारे कल की कहानी गूगल डूडल की जुबानी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 22, 2017
आज धरती दिवस है. पूरी दुनिया आज धरती माता को बचाने के अभियान में एकजुट है. गूगल अपने खास डूडल के जरिए अर्थ डे मना रहा है. गूगल के इस एनिमेटेड डूडल में 12 स्लाइड हैं. गूगल के अनुसार, इस डूडल में एक फॉक्स की कहानी है जो सपने में प्रदूषित और क्लाइमेट चेंज की शिकार पृथ्वी को देखता है. वह सपना देख चौंककर जाग जाता है. ....  समाचार पढ़ें
नासा का 'अकाशीय समुद्र' पर नया खुलासा, कहा सौर मंडल में भी है दूसरी दुनिया जनता जनार्दन डेस्क ,  Apr 16, 2017
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने दावा किया है कि पृथ्वी के अपने सौर मंडल में भी जीवन हो सकता है. यानी हमारे आसपास के ग्रहों पर भी एलियन मौजूद हो सकते हैं. शनि के छठें सबसे बड़े चंद्रमा 'एनसेलडस' पर मिले पानी और उसमें मिले हाइड्रोजन रसायन के बाद नासा का दावा है कि वहां जीवन हो सकता है. ....  समाचार पढ़ें
दूषित पर्यावरण का सबसे बुरा प्रभाव बच्चों पर: 'विश्व पर्यावरण सम्मेलन' में राष्ट्रपति जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 27, 2017
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने नई दिल्ली के विज्ञान भवन में राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण द्वारा आयोजित विश्व पर्यावरण सम्मेलन का उद्घाटन किया। राष्ट्रपति ने कहा कि हाल के अध्ययनों और सिलसिलेवार समीक्षाओं से पता चलता है कि दूषित पर्यावरण से होने वाली बीमारियों का सबसे बुरा प्रभाव बच्चों पर पड़ता है, जिनकी मृत्यु पेचिस, मलेरिया और सांस से होने वाली बीमारियों के कारण होती है। ....  समाचार पढ़ें
इस साल गर्मी तोड़ेगी सारे रिकॉर्ड, लू से हाल होगा बेहाल: मौसम विभाग जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 01, 2017
फरवरी माह खत्म होने से पहले ही देश के कई राज्यों में गर्मी ने दस्तक दे दी है और पारा 30 के पार जा चुका है. यह देख कर साफ लगता है कि इस साल गर्मी गत वर्षों से कहीं ज्यादा पड़ेगी. आशंका जताई जा रही है कि पिछले सभी रिकॉर्ड टूट सकते हैं. इसके पीछे की वजह ग्लोबल वार्मिंग, बार-बार आ रहे पश्चिमी विक्षोभ और स्थानीय शहरी कारक जिम्मेदार हैं. ....  समाचार पढ़ें
आज है साल का पहला सूर्य ग्रहण जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 26, 2017
इस साल का पहला सूर्यग्रहण 26 फरवरी को पड़ने जा रहा है। इस सूर्यग्रहण को भारत, दक्षिण अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, प्रशांत, अटलांटिक, और हिंद महासागर में देखा जा सकेगा। ....  समाचार पढ़ें
गूगल डूडल ने किया नासा और नए ग्रहों को सलाम जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 23, 2017
नासा वैज्ञानिकों की सात धरती की खोज वाली सफलता को सलाम करते दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल ने एक डूडल तैयार किया है. गूगल के इस डूडल में धरती, एक टेलीस्कोप की मदद से अंतरिक्ष में देख रही है. ....  समाचार पढ़ें
प्रकृति की अनदेखी का खामियाजा भुगतने को रहें तैयार जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 05, 2017
प्रकृति हो या मानव जीवन समाज हो अथवा देश, सभी की उचित स्थिति सुख-समृद्धि तभी तक रह सकती है, जब तक उनमें पर्याप्त संतुलन बना रहे। लेकिन कुछ सालों से पर्यावरण पूरी तरह से असंतुलित हो गया है। पर्यावरण दिवस मनाने के मायने क्या हैं, इसको समझना जरूरी है ....  लेख पढ़ें
पृथ्वी दिवस 2017: धरती माता को बचाने के लिए भारत की पहल पांडुरंग हेगड़े ,  Apr 21, 2017
संयुक्त राष्ट्र 22 अप्रैल को एक विशेष दिवस के रूप में पृथ्वी मातृ दिवस मनाता है। 1970 में 10000 लोगों के साथ प्रारंभ किये गये इस दिवस को आज 192 देशों के एक अरब लोग मनाते हैं। इसका बुनियादी उद्देश्य पृथ्वी की रक्षा और भविष्य में पीढ़ियों के साथ अपने संसाधनों को साझा करने के लिए मनुष्यों को उनके दायित्व के बारे में जागरूक बनाना है। ....  लेख पढ़ें
मानसून और पूर्वानुमानः कितनी सच्चाई, कितना फसाना मंजू चौहान ,  Apr 19, 2017
मानसून कृषि के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि आधी से ज्यादा खेती-बाड़ी मानसूनी बारिश पर ही निर्भर करती है। लेकिन जहां सिंचाई के साधन हैं भी, वहां भी मानसूनी बारिश जरूरी है, क्योंकि बारिश नहीं होगी तो नदियां-झीलें भी सूख जाएंगी जहां से सिंचाई के लिए पानी आता ....  लेख पढ़ें
गौरैया संरक्षण दिवस पर विशेषः आंगन से क्यों गायब हो रही नन्ही गौरैया जनता जनार्दन डेस्क ,  Mar 19, 2017
विज्ञान और विकास के बढ़ते कदम ने हमारे सामने कई चुनौतियां भी खड़ी की हैं, जिससे निपटना हमारे लिए आसान नहीं है। विकास की महत्वाकांक्षी इच्छाओं ने हमारे सामने पर्यावरण की विषम स्थिति पैदा की है, जिसका असर इंसानी जीवन के अलावा पशु-पक्षियों पर साफ दिखता है। ....  लेख पढ़ें
नर्मदा के लिए 'गांधी मॉडल' की जरूरत: पी वी राजगोपाल जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 17, 2017
ग्लोबलाइजेशन के इस दौर में नदियों पर बांध बनाकर बिजली पैदा करने के लिए बड़ी कंपनियों को निवेश के लिए बुलाकर उन्हें जमीन देने की होड़ मची हुई है, यहीं से समस्या पैदा हो रही है। यह पूरी तरह चीनी मॉडल है, जो सब पर हावी है। जहां तक नर्मदा परिक्रमा की बात है, इससे नदी के प्रति जागृति तो आ सकती है। मगर इससे नर्मदा अविरल और प्रवाहमान हो पाएगी, इसमें संदेह है।” ....  लेख पढ़ें
भारत सरकार के साथ गड़बड़ क्या है? पशु अधिकार कार्यकर्ताओं ने पूछा कुशाग्र दीक्षित ,  Jun 19, 2016
जीवों के संरक्षण और पर्यावरण संवेदनशील देश के रूप में भारत की छवि बनाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान के बावजूद सरकार द्वारा 'नाशक जीवों' की हत्या का समर्थन करने से विदेशों में भारत की छवि धूमिल हुई है. नतीजा है कि विश्व भर में 15 लाख लोग पूछ रहे हैं कि 'भारत सरकार के साथ गड़बड़ क्या है?' ....  लेख पढ़ें
सूखे के कारण प्रवासी पक्षियों ने तेलंगाना से मुंह मोड़ा मोहम्मद शफीक ,  May 16, 2016
बीते दो साल से जारी जबरदस्त सूखे के कारण बहुत कम संख्या में प्रवासी पक्षियों ने तेलंगाना का रुख किया है. ऐसे में जबकि हैदराबाद की अधिकांश झीलें सूखने के कगार पर हैं, प्रवासी पक्षियो ने उन झीलों का रुख किया है, जहां अभी भी पानी मौजूद है. ....  लेख पढ़ें
वर्ष 2025 तक भयंकर जल संकट वाला देश बन जाएगा भारत जनता जनार्दन डेस्क ,  Apr 17, 2016
देश के अलग-अलग हिस्सों की प्यास से जुड़ी तस्वीरें दिखाने के बाद, अब हम पानी से संबंधित कुछ चिंताजनक आंकड़े आपके सामने रखना चाहते हैं। ये वो आंकड़े हैं जो आपको ना तो कहीं देखने को मिलेंगे और ना ही कोई आपको पानी की गंभीर स्थिति के बारे में बताएगा। एवरीथिंग अबाउट वॉटर नाम की कंसल्टिंग फर्म की रिपोर्ट के मुताबिक भारत, वर्ष 2025 तक भयंकर जल संकट वाला देश बन जाएगा।। ....  लेख पढ़ें
विश्व जल दिवस 2016: तो क्या अगला विश्वयुद्ध पानी के लिए होगा? जनता जनार्दन डेस्क ,  Mar 23, 2016
दुनिया में जिस तरह से पानी को लेकर संकट उससे लगता है तेल के समान उसको लेकर भी युद्ध होगा. जल के बिना जीवन की कल्पना असंभव है, लेकिन इसकी कमी के बीच जीवन कितना कष्टकर होगा ये उससे भी बड़ी जीवंत विडंबना है. देश के कई हिस्सों में अभी से जबरदस्त जल संकट गहरा गया है. ....  लेख पढ़ें
भारत के पास जलवायु परिवर्तन की समस्या का समाधान! जनता जनार्दन डेस्क ,  Jan 02, 2016
भारत के पास एक ऐसी भूगर्भीय सुविधा है जिससे वह दुनिया की जलवायु परिवर्तन की समस्या का प्राकृतिक समाधान कर सकता है, ऐसा कुछ भूवैज्ञानिकों का मानना है।वैज्ञानिकों को काफी सालों से यह जानकारी है कि जीवाश्म ईंधन के जलाने से कार्बन डाइआक्साइड पैदा होता है जिससे धरती का तापमान बढ़ता है। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के आक्रामक रुख से दुनिया क्या तीसरे विश्वयुद्ध के कगार पर है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख