Tuesday, 21 September 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
प्रकृति
  • खबरें
  • लेख
सूर्य से दस गुना अधिक उर्जा पैदा करने का दंभ भरने वाला चीन भारी बारिश और बाढ़ से हलकान जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 22, 2021
सूरज से दसगुना ज्यादा उर्जा पैदा कर प्रकृति पर विजय पा लेने की कोशिशों में जुटा चीन हजार सालों में सबसे भारी बरसात के चलते बाढ़ की एक बड़ी मुसीबस से जूझ रहा है. तेजी से बदलते पर्यावरण चक्र ने फिलहाल इस महाबली देश को घुटनों पर ला दिया है. चारों ओर पानी से अफरातफरी मची है. ....  समाचार पढ़ें
गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने लगा यास, 185 किमी प्रति घंटे हो सकती है रफ्तार जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 24, 2021
बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान की गति लगातार बढ़ती जा रही है. उसका असर आज से ही इस पूरे इलाके में दिखने की संभावना है. हालांकि यास पश्चिम बंगाल और उत्तर ओड़िशा के समुद्र तट से 26 मई की शाम को टकराएगा. ....  समाचार पढ़ें
पूरा लाल चांद और चक्रवाती तूफान यास का मेल हो सकता है बेहद खतरनाक, पीएम मोदी ने ली बैठक जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 23, 2021
फूल मून के दौरान समुद्र में ज्वार बहुत अधिक होता है. यदि ऐसे समय में तूफानी चक्रवात यास के साथ इसका मेल होता है, तो तूफान के समुद्री उछाल की कल्पना भी मुश्किल है. ऐसे में यह बहुत अधिक विनाशकारी होगा. ....  समाचार पढ़ें
यास बदल सकता है खतरनाक चक्रवाती तूफान में, पश्चिम बंगाल और ओड़िशा में चेतावनी, सतर्कता जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 22, 2021
देश के पूर्वी समुद्र तटीय क्षेत्रों में तूफान यास का खतरा मंडरा रहा है. बंगाल की खाड़ी में उठने वाला चक्रवाती तूफान यास जल्दी ही ओड़िशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में दस्तक दे सकता है. ....  समाचार पढ़ें
नए वर्ष वाले दिन शराब को कहे अलविदा, मौसम विभाग ने चेताया जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 27, 2020
दिल्ली: भारत मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि अगले कुछ दिन में उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है ऐसे में घर में बैठे-बैठे या नए साल की पार्टी में शराब पीना बहुत नुकसानदेह हो सकता है। प्रभाव आधारित अपने ताजा सलाह में मौसम विभाग ने कहा है कि 28 दिसंबर से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत ....  समाचार पढ़ें
धरती को हरा भरा रखने के लिये, नवयुवक संघर्ष सेवा समिति ने किया वृक्षा रोपण अमिय पाण्डेय ,  Jul 20, 2020
नव युवक संघर्ष सेवा समिति के तत्वधान में चलाए जा रहे बृहद 30 दिवसीय वृक्षा रोपण कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हिये गायत्री परिवार के महिलाओं के साथ आज सोमवार को 15 वे दिन सैयदराजा के वार्ड न 12 में बड़े भाईं ज्ञान प्रकाश जी के बगीचे व प्राथमिक विद्यालय न 4 में सागवान , आँवला , कट सागवान व जामुन के वृक्षों का किया गया रोपण l पेड़ हैं तो कल हैं कल हैं तो हम हैं पेड़ से ही जीवन सम्भव हैं l जो हमे जीवित रहने के आक्सीजन देता हैं l ज़िसमे समिति के अध्यक्ष अंकित जायसवाल ,प्राथमिक विद्यालय के प्रिंसिपल रुकसाना बेगम , गायत्री परिवार महिला विद्या देवी , उर्मिला देवी , गोलू मोदनवाल , सुनील अग्रहरी , इत्यादि लोगों की उपस्थिति रही l ....  समाचार पढ़ें
मौसम विभाग: गर्म कपड़े उठा कर रख दिए हैं तो निकाल लीजिए, बढ़ने वाली है ठंड जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 05, 2020
अब मौसम विभाग ने कहा है कि दिल्ली और आस पास के इलाकों में 7 व 8 जनवरी को बारिश हो सकती है. इसके कारण कोहरा काफी बढ़ जाएगा और साथ ही ठंड में भी काफी इजाफा हो जाएगा. दरअसल 6 जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ पैदा होगा जो दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के मौसम को बदल देगा. इसी पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ों में बर्फ गिर सकती है और मैदानों में ठंड काफी बढ़ सकती है. ....  समाचार पढ़ें
चंदौली में ठंड का थर्ड डिग्री टॉर्चर, स्कूल तो है बंद लेकिन? अमिय पाण्डेय ,  Dec 30, 2019
पूरे उत्तर भारत मे कोहरा और ठंड का कहर जारी है वैसे में ठंड व कोहरा को देखते हुए मौसम विभाग ने अगले 24 घण्टे महत्वपूर्ण माना है ....  समाचार पढ़ें
उत्तर भारत में ठंड का कहर, सड़क के साथ-साथ हवाई यातायात प्रभावित जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 20, 2019
दिल्ली के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है. दिल्ली में पारा 7 डिग्री पहुंच गया है. ठंड का असर यातायात पर भी पड़ रहा है. सड़क के साथ-साथ हवाई यातायात भी काफी प्रभावित हुआ है. दिल्ली में कई उड़ाने देर से चल रही हैं. टेक ऑफ और लैंडिंग में दिक्कतें आ रही हैं. ....  समाचार पढ़ें
पहाड़ों पर बर्फबारी के बीच अचानक हुई बेमौसम बारिश से उत्तर भारत में बढ़ी ठंड जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 13, 2019
जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी हो रही है. वहीं कल उत्तर भारत के कई राज्यों में हुई बेमौसम बारिश ने सर्दी और बढ़ा दी है. मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से दिल्ली में तेज ठंडी हवाओं और बिजली कड़कने के साथ लगभग दो घंटे बारिश हुई. इससे हवाई यातायात भी प्रभावित हुआ है. मौसम विभाग ने बताया है कि दिल्ली-एनसीआर में 14-15 दिसंबर को तापमान गिरकर 10 डिग्री से नीचे जा सकता है. ....  समाचार पढ़ें
धरती को बचाना है तो हर कोई लगाए 5 पेड़ः 'वृक्ष बंधु' परशुराम सिंह अमिय पाण्डेय ,  Jul 09, 2018
पिछले दो दशक में एक लाख से ज्यादा पेड़ लगा कर उनकी देखभाल करने वाले परशुराम सिंह का मानना है कि बच्चों को शुरू से ही पर्यावरण के प्रति सचेत रहने कि शिक्षा दी जाये ताकि वे भविष्य में पर्यावरण को संतुलित रख सकें. गांव-गांव जाकर पर्यावरण के प्रति जागरूक करने के चलते सिंह को 'वृक्ष बंधू' की उपाधि मिल चुकी है और उन्हें मिले अवार्डों से उनका पूरा एक कमरा भरा है. ....  लेख पढ़ें
धरती पर चंद्रमा का असरः कभी केवल 18 घंटे का था दिन, बढ़ रही दूरी से जल्द ही 25 घंटे का होगा दिन जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 07, 2018
चंद्रमा के पृथ्वी से दूर जाने के कारण हमारे ग्रह पर दिन लंबे होते जा रहे हैं. एक अध्ययन में यह बात सामने आयी है कि 1.4 अरब वर्ष पहले धरती पर एक दिन महज 18 घंटे का होता था. संभव है कि धरती से चंद्रमा की बढ़ती दूरी के चलते आने वाले समय में धरती पर 25 घंटे का दिन होने लगे. ....  लेख पढ़ें
विश्व पर्यावरण दिवस 2018: जब जीवन ही न होगा, तो कहां होंगे हम जय प्रकाश पाण्डेय ,  Jun 05, 2018
विश्व पर्यावरण दिवस हर साल हमें इस बात का मौका देता है कि हम देखें, समझें और जानें कि प्रकृति के संरक्षण में हर व्यक्ति, परिवार, गांव, शहर, जाति, राज्य, देश और समूचे विश्व की क्या भूमिका है. सारी दुनिया में विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है. ....  लेख पढ़ें
विश्व पृथ्वी दिवस : हमें पेड़ लगाने ही होगें,हम स्वार्थी इंसानों के पास और कोई विकल्प नहीं  आकांक्षा सक्सेना ,  Apr 22, 2018
हमने जबसे याद सम्भालीं है तब से यही सुनते चले आ रहे हैं कि पृथ्वी हमारी माता है और सुबह जागते ही पृथ्वी पर पांव रखने से पहले पृथ्वी माता के पांव छूओ। यह हैं हमारे भारतीय संस्कृति और संस्कार पर कहते हैं न पूर्वजों की कहीं बातें सिर्फ हमने सुनी और लिखीं पर अफसोस! अमल में न ला सके। आज हमारी महत्वाकांक्षायें अंतरिक्ष के साथ-साथ पृथ्वी माँ का भी कलेजा चीरती हुई दिखाई पड़ती है कि आज जंगल न के बराबर बचे हैं। एक समय था हर भारतीय चंदन लगाता था पर आज चंदन की लकड़ी के दर्शन दुर्लभ हैं ....  लेख पढ़ें
घर में लगाएं ये लाभकारी पौधेः इनसे बचता है पर्यावरण, बनता है स्वास्थ्य, आती है समृद्धि श्वेता झा ,  Nov 30, 2017
हम सबको इसके लिए अपनी दिनचर्या में कुछ अहम बदलाव लाने होंगे. अब तक मैं, आप, हम सभी ने कई अवसरों पर अपने दोस्तों, रिश्तेदारों को बहुत से तोहफे दिए होंगे, बहुत से लिए भी होंगे, पर क्यों ना हम सब अब प्रण लें आने वाले समय में एक दूसरे को पेड़ पौधें गिफ्ट करें और एक कदम स्वच्छ हवा की ओर बढ़ाएं. ....  लेख पढ़ें
प्रकृति की अनदेखी का खामियाजा भुगतने को रहें तैयार जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 05, 2017
प्रकृति हो या मानव जीवन समाज हो अथवा देश, सभी की उचित स्थिति सुख-समृद्धि तभी तक रह सकती है, जब तक उनमें पर्याप्त संतुलन बना रहे। लेकिन कुछ सालों से पर्यावरण पूरी तरह से असंतुलित हो गया है। पर्यावरण दिवस मनाने के मायने क्या हैं, इसको समझना जरूरी है ....  लेख पढ़ें
पृथ्वी दिवस 2017: धरती माता को बचाने के लिए भारत की पहल पांडुरंग हेगड़े ,  Apr 21, 2017
संयुक्त राष्ट्र 22 अप्रैल को एक विशेष दिवस के रूप में पृथ्वी मातृ दिवस मनाता है। 1970 में 10000 लोगों के साथ प्रारंभ किये गये इस दिवस को आज 192 देशों के एक अरब लोग मनाते हैं। इसका बुनियादी उद्देश्य पृथ्वी की रक्षा और भविष्य में पीढ़ियों के साथ अपने संसाधनों को साझा करने के लिए मनुष्यों को उनके दायित्व के बारे में जागरूक बनाना है। ....  लेख पढ़ें
मानसून और पूर्वानुमानः कितनी सच्चाई, कितना फसाना मंजू चौहान ,  Apr 19, 2017
मानसून कृषि के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि आधी से ज्यादा खेती-बाड़ी मानसूनी बारिश पर ही निर्भर करती है। लेकिन जहां सिंचाई के साधन हैं भी, वहां भी मानसूनी बारिश जरूरी है, क्योंकि बारिश नहीं होगी तो नदियां-झीलें भी सूख जाएंगी जहां से सिंचाई के लिए पानी आता ....  लेख पढ़ें
गौरैया संरक्षण दिवस पर विशेषः आंगन से क्यों गायब हो रही नन्ही गौरैया जनता जनार्दन डेस्क ,  Mar 19, 2017
विज्ञान और विकास के बढ़ते कदम ने हमारे सामने कई चुनौतियां भी खड़ी की हैं, जिससे निपटना हमारे लिए आसान नहीं है। विकास की महत्वाकांक्षी इच्छाओं ने हमारे सामने पर्यावरण की विषम स्थिति पैदा की है, जिसका असर इंसानी जीवन के अलावा पशु-पक्षियों पर साफ दिखता है। ....  लेख पढ़ें
नर्मदा के लिए 'गांधी मॉडल' की जरूरत: पी वी राजगोपाल जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 17, 2017
ग्लोबलाइजेशन के इस दौर में नदियों पर बांध बनाकर बिजली पैदा करने के लिए बड़ी कंपनियों को निवेश के लिए बुलाकर उन्हें जमीन देने की होड़ मची हुई है, यहीं से समस्या पैदा हो रही है। यह पूरी तरह चीनी मॉडल है, जो सब पर हावी है। जहां तक नर्मदा परिक्रमा की बात है, इससे नदी के प्रति जागृति तो आ सकती है। मगर इससे नर्मदा अविरल और प्रवाहमान हो पाएगी, इसमें संदेह है।” ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख