Wednesday, 22 September 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
व्यापार
खरबों कमाने वाली कंपनियों में भी अमानवीय हैं हालात ! जनता जनार्दन संवाददाता ,  Apr 12, 2021
शैनॉन कहती हैं, "मुझे लगता है कि सबसे बड़ी बात जो लोग सीख सकते हैं वह यह कि गूगल के सभी कर्मचारियों को भारी भरकम वेतन नहीं मिलता है. और यह बात भी वो सीख सकते हैं कि गूगल में सबसे निचले स्तर पर काम करने वाले लोगों के पास भी बहुत ताक़त है. इतनी ताक़त जिसका उन्हें अहसास भी नहीं हो पाता." ....  लेख पढ़ें
यस बैंक पर आरबीआई के फैसले के बाद आपके मन में उठ रहे हर सवाल का जवाब जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 08, 2020
Odisha under the leadership of Chief Minister Shri Naveen Patnaik has set a new and exemplary trend. It was evident in the decision of the authorities in Ganjam district to adopt Saturdays as "no bag day” for students in schools up to 5th standard. Shri Patnaik has been acclaimed across the country for his advocacy for inclusion of none-violence in the Preamble of the Constitution on the occasion of 150th birth anniversary of Mahatma Gandhi. With a discerning approach and eye a little application of mind to the decision to introduce no bag day in schools on Saturdays in Ganjam district would unmistakably indicate a step taken by Shri Patnaik's Government to fulfill the vision of Mahatma Gandhi and celebrated writer and literater late Shri R K Narayan who passionately wanted to ....  लेख पढ़ें
Yes Bank के शेयर 74 फीसदी तक गिरे जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 08, 2020
यस बैंक पर रिजर्व बैंक के रोक लगाने और निदेशक मंडल को भंग करने के बाद शुक्रवार को यस बैंक का शेयर 25 प्रतिशत गिरकर खुला और सुबह के कारोबार में यह 74 फीसदी तक नीचे चला गया. बीएसई पर बैंक का शेयर 24.96 प्रतिशत गिरकर 27.65 रुपये प्रति शेयर पर खुला. सुबह 11 बजे के कारोबार में इसका भाव 49.93 प्रतिशत की गिरावट के साथ 18.45 रुपये प्रति शेयर चल रहा है. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) पर बैंक का शेयर शुरुआत में 20 प्रतिशत गिरकर 29.45 रुपये पर पहुंच गया. सुबह 11 बजे के कारोबार में यह 50 प्रतिशत गिरकर 18.40 रुपये प्रति शेयर पर चल रहा है. ....  लेख पढ़ें
प्रॉपर्टी लोन लिया है तो इन बातों का रखें ध्यान वरना लोन बन जाएगा बोझ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Oct 20, 2019
आजकल प्रॉपर्टी खरीदने के लिए मध्य वर्ग के बीच लोन लेने का चलन काफी बढ़ता जा रहा है और इसके साथ ही इससे जुड़ी दिक्कतों से भी ग्राहकों को दो-चार होना पड़ता है. हालांकि यहां पर आप जान सकते हैं कि लोन लेते समय आप किन सावधानियों को बरतें जिससे आपका लिया हुआ लोन आपके लिए बोझ न बन जाए. ....  लेख पढ़ें
जानिए, क्या है ग्रॉस फिक्स्ड कैपिटल फॉर्मेशन? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 29, 2018
पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत नहीं हैं क्योंकि 'ग्रॉस फिक्स्ड कैपिटल फॉर्मेशन' (जीएफसीएफ) वित्त वर्ष 2013-14 में 31.3 प्रतिशत से घटकर बीते चार साल में 28.5 प्रतिशत के आस-पास ही स्थिर है। 'ग्रॉस फिक्स्ड कैपिटल फॉर्मेशन' क्या है? यह अर्थव्यवस्था को कैसे प्रभावित करता है? 'जागरण पाठशाला' के इस अंक में हम यही जानने का प्रयास करेंगे। ....  लेख पढ़ें
बॉलीवुड से सहभागिता: एक आकर्षक ई-कॉमर्स फार्मूला निवेदिता ,  Nov 14, 2017
युवाओं को प्रभावित करने, उन्हें आकर्षित करने में बॉलीवुड अहम भूमिका निभाता है और इस बात को ध्यान में रखते हुए ई-कॉमर्स वेबसाइटों का फिल्मों और फिल्मी हस्तियों से जुड़ने का चलन अगले स्तर तक पहुंच गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि इस साझेदारी से ग्राहकों की संख्या बढ़ रही है और व्यापार को फायदा हो रहा है। ....  लेख पढ़ें
भारतीय स्मार्टफोन बाजार में नंबर-1 बनना है ऑनर का लक्ष्य: जार्ज झाओ जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 06, 2017
चीन की प्रौद्योगिकी दिग्गज हुआवेई की उप-ब्रांड ऑनर अपने अभिनव और रुझान पैदा करने वाले उत्पादों की मद भारतीय स्मार्टफोन बाजार में शीर्ष पर काबिज होना चाहती है। कंपनी के वैश्विक अध्यक्ष जार्ज झाओ ने यह बातें कही। उन्होंने बताया कि कंपनी की योजना 'उच्च प्रतिस्पर्धी' भारतीय बाजार में 'कम कीमत पर' फ्लैगशिप उत्पाद लांच करना है। ....  लेख पढ़ें
नोटबंदी का नकारात्मक असर अल्पकालिक: रेटिंग एजेंसियां वेंकटाचारी जगन्नाथन ,  Nov 02, 2017
वैश्विक और घरेलू रेटिंग एजेंसियों का कहना है कि नोटबंदी का भारतीय अर्थव्यस्था पर नकारात्मक असर अल्पकालिक है. उन्होंने कहा कि मौजूदा मंदी का थोड़ा बहुत कारण वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को जुलाई से लागू करना भी है. ....  लेख पढ़ें
क्या रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को था 2000 और 200 रुपए के नोट जारी करने का हक? अजय पुंज ,  Oct 31, 2017
देश के सभी बैंकों का संचालन करने वाले भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) पर एक चौंका देने वाला खुलासा सामने आया है. आरटीआई के जरिए उपलब्ध दस्तावेजों के मुताबिक, भारतीय रिजर्व बैंक के पास यह प्रमाणित करने का कोई आधिकारिक दस्तावेज नहीं है कि नोटबंदी के बाद उसके पास 2,000 रुपये और 200 रुपये मूल्यवर्ग की नई मुद्रा जारी करने का अधिकार था. ....  लेख पढ़ें
नोटबंदी से बैंकों को फायदा, ग्राहकों को भारी परेशानी जनता जनार्दन डेस्क ,  Oct 31, 2017
केंद्र सरकार के नोटबंदी के कदम से किसी एक क्षेत्र को अन्य की तुलना में ज्यादा फायदा हुआ है- तो वह बैंकिंग क्षेत्र है। फंसे हुए कर्जो से जूझ रहे बैंकिंग क्षेत्र को नोटबंदी से बड़ी राहत मिली, लेकिन ग्राहकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख